Date: 18/07/2024, Time:

इस बार 40 डिग्री पर 45 डिग्री सेल्सियस का असर दिखाएगी गर्मी

0

लखनऊ 24 अप्रैल। राजधानी समेत प्रदेश के ज्यादातर जिलों में भीषण गर्मी का सितम जारी है। मौसम विभाग के मुताबिक, अगले तीन-चार दिनों तक 36 से अधिक जिलों में दिन व रात के तापमान में तीन-चार डिग्री सेल्सियस की बढ़ोत्तरी होगी। राज्य के अधिकतर हिस्सों में लू की भी चेतावनी जारी की गई है। अभी बारिश के कोई आसार नहीं दिख रहे हैं।
लखनऊ मौसम केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक अतुल कुमार सिंह ने बताया कि पिछले चार-पांच दिनों से यूपी के ज्यादातर इलाकों में दिन का पारा 40 के अधिक बना हुआ है। रात के तापमान में भी बढ़ोत्तरी देखी गई है। पिछले साल की तुलना में इस बार गर्मी थोड़ा परेशान कर सकती है।

मंगलवार को लखनऊ का अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस, जबकि न्यूनतम पारा 25 डिग्री सेल्सियस रहेगा। इसके अलावा बाराबंकी, हरदोई, कानपुर शहर, कानपुर देहात, लखीमपुर खीरी, गोरखपुर, वाराणसी, बहराइच और प्रयागराज में न्यूनतम तापमान 24 डिग्री और अधिकतम तापमान 40 से 42 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने का पूर्वानुमान है।

बता दें कि सदी का सबसे गर्म रहे वर्ष 2023 के मुकाबले इस बार 2024 की गर्मी भी लोगों पर कहर बरपाएगी। इस बार की गर्मी को हल्के में लेना जानलेवा साबित हो सकता है। मौसम विज्ञानियों के अनुसार, इस बार 40 डिग्री के तापमान पर भी 45 और 47 डिग्री की गर्मी का असर होगा। इसकी वजह मौसम में गर्मी के साथ बढ़ रही आर्द्रता है। जो वेट बल्ब टेंपरेचर की स्थिति बना रही है।

वेट बल्ब टेंपरेचर तापमान को मापने की अत्याधुनिक विधि है जिसमें वातावरण में मौजूद गर्मी और आर्द्रता दोनों स्थितियां को मापा जाता है। इससे पता चलता है कि मानव जीवन के लिए वातावरण का तापमान कितना अनुकूल और प्रतिकूल है। 32 डिग्री वेट बल्ब टेंपरेचर को 50 डिग्री टेंपरेचर के बराबर माना जाता है। 35 डिग्री वेट बल्ब टेंपरेचर मानव और जीव जंतुओं के लिए जानलेवा माना गया है। वेट बल्ब टेंपरेचर और मौसम में बदलाव, संभावित तापमान की जानकारी देती हुई रिपोर्ट।

Share.

Leave A Reply