Date: 28/02/2024, Time:

सरकार ने इंस्टाग्राम-फेसबुक सोशल मीडिया अकाउंट्स को लेकर जारी की गाइडलाइन

0

नई दिल्ली 23 जनवरी। आज के समय में सोशल मीडिया का इस्तेमाल इतना अधिक बढ़ गया है कि शायद ही कोई महत्वपूर्ण व्यक्ति या संस्था हो जो इसका इस्तेमाल न करती हो। ट्विटर, इंस्टाग्राम और फेसबुक जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर लोग अपने विचार साझा करते हैं। तस्वीरें और पोस्ट शेयर करते हैं। साथ ही लाइक और कमेंट्स भी करते हैं। लेकिन कई बार इसके इस्तेमाल में सुरक्षा और प्राइवेसी को लेकर खतरा बताया जाता है। हाल के दिनों में कुछ हाई प्रोफाइल लोगों और यहां तक की सरकार के सोशल मीडिया अकाउंट्स पर अटैक की खबरें सामने आईं हैं। सबसे बड़ी चुनौती अपने सोशल मीडिया अकाउंट की सुरक्षा सुनिश्चित करना है। ताकि कोई इसका गलत इस्तेमाल न कर सके।

सरकार ने फेसबुक और इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया अकाउंट्स को लेकर दिशा निर्देश जारी किए हैं। सबसे जरूरी है कि आपके सोशल मीडिया अकाउंट का दुरुपयोग न हो सके। इसी वजह से CERT-In ने गाइडलाइन जारी की है। इसमें बताया गया है कि आप कैसे अपने सोशल मीडिया अकाउंट को सुरक्षित रख सकते हैं। CERT-In एक सरकारी निकाय है जो ऐप्स और सेवाओं के भीतर कमजोरियों और बगों पर नजर रखता है। सोशल मीडिया अकाउंट को सुरक्षित रखने के तरीके पर कुछ प्रमुख दिशानिर्देश जारी किए हैं।

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक CERT-In ने बताया है कि हाल में हाई-प्रोफाइल हस्तियों, आधिकारिक सरकारी खातों और उद्यम खातों के सोशल मीडिया अकाउंट पर हमले बढ़े हैं। इस वजह से इन व्यक्तियों या समूहों के सोशल मीडिया अकाउंट की सुरक्षा बहुत जरूरी हो जाती है। इसकी सुरक्षा के लिए सबसे जरूरी है कि आपका पासवर्ड मजबूत हो। यानी पासवर्ड बिल्कुल अलग और ऐसा होना चाहिए कि कोई उसे समझ न सके। पासवर्ड में अलग-अलग नंबर और लेटर होने चाहिए। दो-कारक या मल्टी-फैक्टर प्रमाणीकरण से कोई भी अकाउंट ज्यादा सुरक्षित हो जाता है। इससे हैकर पासवर्ड जानने के बावजूद भी आपके अकाउंट तक नहीं पहुंच पाएंगे।

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के लिए एक डेडिकेटेड ईमेल अकाउंट रखने की सलाह दी जाती है। साथ ही यह भी सुनिश्चित करें कि इस ईमेल और सोशल मीडिया खातों के क्रेडेंशियल अलग-अलग हैं। अपने आधिकारिक सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के लिए जीपीएस एक्सेस बंद करें ताकि आपकी लोकेशन ट्रैकिंग न की जा सके। सार्वजनिक वायरलेस नेटवर्क के इस्तेमाल को सुरक्षित नहीं बताया गया है। क्योंकि इससे सोशल मीडिया अकाउंट्स तक पहुंच हो सकती है। यह भी कहा गया हैक कि नए सुरक्षा पैच के साथ सोशल मीडिया एप्लिकेशन और डिवाइस को रेगुलर अपडेट करते रहें।

Share.

Leave A Reply