Date: 21/02/2024, Time:

असदुद्दीन ओवैसी जब पढ़ते है नमाज तो निकलता है राम-रामः विनय कटियार

0

अयोध्या 11 जनवरी। अयोध्या में अब राम मंदिर हकीकत बन चुका है, लेकिन अतीत के पन्ने खोले तो देखेंगे कुछ ऐसे आंदोलनकारी रहे जिन्होंने मंदिर आंदोलन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. उन्हीं में से एक हैं विनय कटियार. रामजन्मभूमि विवाद के बाद से काफी चर्चित रहे कटियार को BJP का फायर ब्रांड नेता माना जाता है. अपने बयानों के कारण अक्सर विवादों में रहने वाले कटियार ने कहा कि एआईएमआईएम के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी जब नमाज पढ़ते हैं, तब अल्लाह की जगह राम-राम सुनाई पड़ता है.

विनय कटियार ने कहा कि मंदिर निर्माण के साथ कई मुस्लिमो के हृदय परिवर्तन हो रहे हैं. कुछ मुस्लिम महिलाएं तो प्राण प्रतिष्ठा के लिए दूर दूर से आ रही हैं. लेकिन एआईएमआईएम के मुखिया लगतार सवाल उठा रहे हैं. इस बारे में विनय कटियार ने कहा कि ओवैसी जब नमाज पढ़ते हैं तो उनके अल्लाह की जगह राम-राम निकलता है. वह राम राम ही जपते रहते हैं. जब वह ऐसा कर रहे हैं तो हमें कोई आपत्ति नहीं है. यह अच्छा हो रहा है.

अयोध्या के विकास के बारे में कटियार ने कहा कि सड़कें चौड़ी की जा रही हैं. विशाल द्वार बनाये गये हैं. इस नई अयोध्या को देखकर बहुत अच्छा लग रहा है. श्रद्धालुओं का स्वागत किया जा रहा है. घाटों का जीर्णोद्धार किया जा रहा है. एयरपोर्ट को भव्य रूप दिया गया है. ट्रेनें बढ़ गई हैं. बढ़िया ट्रेनें चल गई हैं. डबल लाइन हो गई है. प्रधानमंत्री जी के ध्यान में ये सब चीजें हैं.

उन्होंने कहा कि अयोध्या की मुख्य सड़क चौड़ी हो गई है. पहले एक लेन की होती थी तो निकलना कठिन होता था. हनुमानगढ़ी तक आने में भीड़ लगी रहती थी. उसकी व्यवस्था कर दी गई है. उन्होंने कहा कि 22 जनवरी को देखते हुए मंदिर निर्माण का काम बहुत तेजी के साथ हो रहा है. चूंकि यह पत्थर से बन रहा है, ईंट गारे से नहीं, तो यह कारीगरों के लिए बड़ा काम है. वही इसके इंजीनियर भी हैं. इसे बनाने में अभी बहुत समय लगेगा. तीन मंजिला बनना है.

प्राण प्रतिष्ठा समारोह में भागीदार होने के जवाब में उन्होंने कहा कि समारोह में अवश्य जायेंगें. यह हमारे संकल्पों और प्रयासों का फल है. मंदिर बनते देखना सौभाग्य की बात है और उनके आराध्य की प्राण प्रतिष्ठा में शामिल होना पुण्यकर्मों का फल. निमंत्रण आ गया है. हमारे पास है. अभी मुंह में थोड़े छाले हैं. इसलिए थोड़ी कठिनाई है. अगर इसने हमको अनुमति दी तो जाएंगे.

Share.

Leave A Reply