Date: 22/04/2024, Time:

यूपी बोर्डः 1.33 लाख परीक्षार्थियों ने छोड़ी गणित की परीक्षा, 4 पर एफआईआर दर्ज 

0

लखनऊ 28 फरवरी। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) के 1 लाख 33 हजार परीक्षार्थियों ने मंगलवार को गणित की परीक्षा छोड़ दी है। इस बीच बोर्ड परीक्षा के लिए बने कंमाड रूम ने मंगलवार को जौनपुर एवं देवरिया के एक-एक परीक्षा केंद्रों में गड़बड़ी को पकड़ा। कंमाड रूम के कैमरे ने पाया कि यहां के परीक्षा केंद्रों के स्ट्रांग रूम की सुरक्षा का पर्याप्त इंतजाम नहीं है। जौनपुर के केंद्र का सीसीटीवी डीवीआर सही नहीं पाया गया। दोनों ही परीक्षा केंद्रों के केंद्र व्यवस्थापक, बाह्य केंद्र व्यवस्थापक एवं स्टेटिक मजिस्ट्रेट के खिलाफ कार्रवाई को लिखा गया है। ऐसे ही प्रयागराज के दो केंद्रों का निरीक्षण स्वयं बोर्ड सचिव दिब्यकांत शुक्ला ने किया। एक केंद्र सुभाष चंद्र बोस इंटर कालेज कादिलपुर स्ट्रांग रूम की खिड़की सील नहीं थी। यहां सुरक्षा के मानक पूरे नहीं थे। सीसीटीवी डीवीआर भी ऑनलाइन नहीं मिला। इस केंद्र के खिलाफ कार्रवाई को जिला विद्यालय निरीक्षक को लिखा गया है। मंगलवार को हाईस्कूल गणित की परीक्षा में 1.33 लाख से अधिक परीक्षार्थी गैरहाजिर रहे। विभिन्न जिलो के परीक्षा केंद्रों से 4 छद्म परीक्षार्थी भी पकड़े गए हैं। चार नकलची दबोचे गए हैं।

गत दिवस यूपी बोर्ड की व्यूरचना का पहला इम्तहान था। प्रथम पाली में हाईस्कूल गणित एवं इंटर में व्यवसायिक वर्ग का पेपर था। प्रथम पाली में 8,269 परीक्षा केंद्रों पर 21,26,179 परीक्षार्थी पंजीकृत थे पर 1,33,945 परीक्षा केंद्र से गैरहाजिर रहे। द्वितीय पाली में हाईस्कूल में आटोमोबाइल एवं इंटर में गृहविज्ञान की परीक्षा थी। इस परीक्षा में 5965 केंद्रों पर 3,05,324 परीक्षार्थियों में 12,894 अनुपस्थित रहे। हाईस्कूल की परीक्षा में हाईस्कूल एवं इंटर में दो-दो बालक नकल करते हुए पकड़े गए। प्रथम पाली में गोंडा में दो, आजमगढ़ एवं शाहजहांपुर से एक-एक छद्म परीक्षार्थी पकड़ा गया। इन चारों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। बोर्ड सचिव दिब्यकांत शुक्ला ने भी प्रथम पाली में प्रयागराज के 2 केंद्रों सुभाष चंद्र बोस इंटर कालेज कादिलपुर एवं बृज बिहारी सहाय इंटर कालेज का निरीक्षण किया। सचिव को सुभाष चंद्र इंटर कालेज में काफी कमियां मिली। कई कक्ष निरीक्षकों के पास क्यूआर कोड वाला परिचय पत्र नहीं मिला। स्ट्रांग रूम भी सुरक्षा मानकों का पूरा नहीं करा रहा था। दरवाजे के पल्ले बेहद कमजोर थे। कक्षों में लगे सीसीटीवी कैमरे बोर्ड मुख्यालय के कंट्रोल रूम से कनेक्ट नहीं थे। सचिव ने जिला विद्यालय निरीक्षक को इस संबंध में रिपोर्ट बना कर भेजा है। साथ ही कारर्वाई का निर्देश भी दिया है।

Share.

Leave A Reply