Date: 28/02/2024, Time:

देश में कोई राम लहर नहीं, प्राण प्रतिष्ठा के बाद बोले राहुल गांधी

0

नई दिल्ली 23 जनवरी।अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार (23 जनवरी) को कहा कि यह बीजेपी का राजनीतिक कार्यक्रम था.

राम मंदिर उद्घाटन और देश में राम लहर को लेकर  राहुल गांधी ने कहा, ”कोई लहर नहीं है. मैं पहले कह चुका हूं कि यह बीजेपी का राजनीतिक कार्यक्रम था. हम अपना प्लान देश के सामने रखेंगे. आने वाले दिनों में हम युवा, किसान और महिलाओं के लिए न्याय का हमारा रोडमैप जारी करेंगे.”

दरअसल, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने हाल ही में कहा था कि रामलला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह को बीजेपी, आरएसएस और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का फंक्शन बना दिया गया है. इस कारण हमारे नेताओं ने निमंत्रण अस्वीकार कर दिया.

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खरगे, पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी और अधीर रंजन चौधरी ने राम मंदिर उद्घाटन में शामिल होने को लेकर मिले निमंत्रण पत्र को ठुकरा दिया था. इसको लेकर पार्टी ने बयान जारी कर कहा था कि बीजेपी कार्यक्रम का इस्तेमाल राजनीतिक फायदे के लिए कर रही है.

असम में एफआईआर के आदेश पर राहुल गांधी ने कहा कि इससे हमें फायदा हो रहा है. उन्होंने कहा, ”असम के सीएम जो कर रहे हैं उससे यात्रा को फायदा मिल रहा है. हमारा प्रचार हो रहा है. इस तरह सीएम और गृह मंत्री अमित शाह हमारी मदद कर रहे हैं. ये डराने की कोशिश है, लेकिन डरने वाले नहीं है. लोग बोल रहे हैं कि बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा गुवाहाटी में जा सकते हैं तो राहुल गांधी क्यों नहीं जा सकते?”

राहुल गांधी ने आगे कहा कि हिमंत बिस्व सरमा देश के सबसे भ्रष्ट सीएम हैं. यहां काफी बेरोजगारी है.
वहीं, कांग्रेस नेता राहुल गांधी के नेतृत्व वाली भारत जोड़ो न्याय यात्रा असम में भारी बवाल देखने को मिल रहा है। असम पुलिस ने राहुल गांधी की यात्रा को गुवाहाटी शहर में प्रवेश करने से रोक दिया है।

मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने बताया कि उन्होंने राज्य पुलिस महानिदेशक जीपी सिंह को बैरिकेड तोड़ने के लिए भीड़ को उकसाने को लेकर राहुल गांधी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का निर्देश दिया है.

Share.

Leave A Reply