Date: 30/05/2024, Time:

ऑपरेशन बीच में छोड़ डोसा खाने चला गया डॉक्टर, 2 घंटे के बाद लौटा, युवती की अंगुलियां हो गईं टेढ़ी

0

झांसी 27 अप्रैल। झांसी में एक चिकित्सक की लापरवाही का बड़ा मामला सामने आया है. एक युवती के हाथ के ऑपरेशन के दौरान चिकित्सक को भूख लग गई. वह हाथ वैसे ही छोड़कर मसाला डोसा खाने चला गया. इसके बाद युवती वैसे ही ऑपरेशन थिएटर में पड़ी रही, लगभग 2 घंटे बाद लौटकर चिकित्सक ने ऑपरेशन पूरा किया. युवती का आरोप है कि चिकित्सक की इस लापरवाही के कारण उसकी अंगुलियां टेढ़ी हो गईं. बाद में वह चिकित्सक से मिलने पहुंची तो उसने मिलने से मना कर दिया. युवती को गुड़गांव के मेदांता अस्पताल में अपना इलाज कराना पड़ा. आरोप है कि उसने पुलिस और सीएमओ से शिकायत की लेकिन कार्रवाई नहीं हुई. वह अब सीएम से गुहार लगाएगी.

झांसी के नवाबाद इलाके की रहने वाली काजल शर्मा ने बताया कि उससे पिता आर्मी में हैं. एक बार वह घर में गिर गई थी. इससे उसके बाएं हाथ में चोट लग गई. इससे उसके एल्बो की हड्डी टूट गई थी. इस पर परिजनों ने शहर के एक अस्पताल में इलाज कराना शुरू किया. युवती का आरोप है कि वहां हड्डी जोड़ रोग विशेषज्ञ ने बताया कि हाथ का ऑपरेशन करना पड़ेगा.

तय समय पर 22 दिसंबर वह ऑपरेशन के लिए अस्पताल पहुंची. उसे ऑपरेशन थिएटर ले जाया गया. वहां पता चला कि जिस डॉक्टर से वह इलाज करा रही थी, वह ऑपरेशन नहीं करेंगे, बल्कि उनका चिकित्सक बेटा यह ऑपरेशन करेगा. जानकारी करने पर लोगों ने बताया कि चिकित्सक का बेटा ही ऑपरेशन करता है.
युवती ने बताया कि पहले उसके हाथ को सुन्न किया गया. इसके बाद ऑपरेशन शुरू हुआ. हाथ में कट लगा दिए गए. केवल हाथ को ही सुन्न किया गया था. इसलिए उसे सब कुछ दिखाई और सुनाई दे रहा था. बीच ऑपरेशन में ही डॉक्टर कहने लगे कि उन्हें भूख लगी है, वह मसाला डोसा खाने जा रहे हैं. बाकी का ऑपरेशन लौटकर करेंगे. इसके बाद वे खुला हाथ छोड़कर ही चले गए.

करीब दो घंटे बाद वह लौटे, इसके बाद जल्दबाजी में बाकी ऑपरेशन कर दिया. डॉक्टर ने ऑपरेशन से हाथ ठीक होने की गारंटी ली थी, इसके बावजूद हाथ सहीं नहीं हुआ, हाथ की अंगुलियां भी टेढ़ी हो गईं. बाद में जब डॉक्टर को दिखाने गए तो उसने देखने से मना कर दिया. अभद्रता भी की. बाद में झांसी के अन्य अस्पतालों के अलावा ग्वालियर में भी दिखाया. इसके बाद गुड़गांव के मेदांता में दोबारा उनका ऑपरेशन हुआ. अब उन्हें आराम है.

पीड़ित काजल शर्मा ने बताया कि वह डॉक्टर की शिकायत के लिए सबसे पहले चौकी, फिर थाना नवाबाद गईं. इसके बावजूद कार्रवाई नहीं हुई. एसएसपी से भी शिकायत की. एसएसपी के कहने पर वह झांसी सीएमओ से शिकायत करने पहुंची, लेकिन वहां कर्मियों ने बताया कि वह व्यस्त रहते हैं, नहीं मिल सकते हैं. शिकायत पत्र लेकर वहां से लौटा दिया गया. अभी तक आरोपी चिकित्सक पर कोई कार्रवाई नहीं हुई, अब वह सीएम से मिलकर शिकायत करेगी.

Share.

Leave A Reply