Date: 28/02/2024, Time:

एसटीएफ ने सहारनपुर में पकड़ी 80 लाख की नशीली दवा

0

सहारनपुर 15 जनवरी। सहारनपुर में थाना कोतवाली और मेरठ एसटीएफ ने गत सुबह तीन आरोपियों को जुबली पार्क के पास से 80 लाख रुपए की दवाओं के साथ पकड़ा हैं। तीनों आरोपी रुड़की, मुजफ्फरनगर और सहारनपुर के रहने वाले हैं। 3.44 लाख प्रतिबंधित टैबलेट आरोपियों के पास से मिली हैं। एसटीएफ मेरठ के इंस्पेक्टर सुनील कुमार की तरफ से तीनों के खिलाफ शहर कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया गया हैं। आरोपियों को डयूटी मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया जाएगा। तीसरे आरोपी की गिरफ्तारी को टीमें दबिश दे रही हैं। आरोपी सहारनपुर, उत्तराखंड और हरियाणा में प्रतिबंधित दवाएं सप्लाई करते थे।

पिछले कई दिनों से मेरठ एसटीएफ को सूचना मिल रही थी कि सहारनपुर से नशीली दवाओं की सप्लाई हो रही है। रविवार की सुबह एसटीएफ मेरठ के इंस्पेक्टर सुनील कुमार टीम के साथ नगर कोतवाली पहुंचे। सूचना पर औषधि निरीक्षक लवकुश प्रसाद भी टीम के साथ कोतवाली आ गए। टीमों ने मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर जुबली पार्क से बाइक पर नशीली दवाओं के जखीरे के साथ शाहबाज पुत्र सरताज निवासी रामपुर थाना गंगनहर रुड़की जनपद हरिद्वार और एहतेशाम पुत्र उस्मान अहमद निवासी गांव घोघरेकी देहात कोतवाली को गिरफ्तार किया। यह दोनों आरोपी नशीली दवाएं सप्लाई करने जा रहे थे। मौके से 3.44 लाख नशीली गोलियां बरामद हुई हैं, जिनकी कीमत 80 लाख रुपये है। आरोपियों को गिरफ्तार कर टीमें नगर कोतवाली ले आई। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि अंकित कुमार पुत्र राजेंद्र निवासी गांव शाहबुद्दीनपुर नगर कोतवाली मुजफ्फरनगर से नशीली दवाएं लाकर सहारनपुर, उत्तराखंड और हरियाणा में सप्लाई करते थे। एसटीएफ मेरठ के निरीक्षक सुनील कुमार ने तीनों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।
औषधि निरीक्षक लवकुश प्रसाद ने बताया कि आरोपियों से बरामद सभी दवाओं के चार सैंपल लिए गए हैं, जिनको जांच के लिए प्रयोगशाला में भेजे दिए गए।
आरोपियों के पास से 1280 डिब्बों में 3.44 लाख नशीली दवाएं बरामद हुई हैं। इनमें अल्प्रजोलम की 105000 गोलियां, 30000 ट्रामाडोल प्रोलंज्ड रिलीज गोलियां और 209000 ट्रामाडॉल हाइड्रोक्लोराइड गोलियां मिली है। एसटीएफ, पुलिस, औषधि विभाग की टीमों ने कार्रवाई की है।

Share.

Leave A Reply