Date: 30/05/2024, Time:

मतांतरण के लिए उकसाने पर चार युवतियों समेत छह गिरफ्तार

0

नोएडा, 06 मई। कोतवाली एक्सप्रेस-वे क्षेत्र में बीटेक की छात्रा और उसकी चचेरी बहन को मतांतरण के लिए उकसाने का मामला सामने आया है। पुलिस ने गत रविवार को छात्रा के पिता की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर चार युवती समेत छह आरोपितों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों को न्यायालय के समक्ष पेश किया गया, जहां उसे उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

पुलिस के अनुसार, जेपी विशटाउन की एक सोसायटी के एक व्यक्ति ने दर्ज कराई शिकायत में बताया कि बेटी बस से उतरकर घर आती है तो गुलशन माल के पास ईशू, रूथु समेत चार युवतियां और एक युवक उससे मिलते हैं। ये लोग उसे धार्मिक पुस्तक पढ़ने के लिए बुलाते हैं तथा उससे कहते हैं कि आप हमारे घर पर आओ। सभी ने शिकायतकर्ता के साले की बेटी के साथ भी इसी तरह का प्रयास किया।

पीड़ित ने आशंका व्यक्त की है कि ये लोग धार्मिक पुस्तक पढ़ने के बहाने घर पर बुलाकर मतांतरण कराने का रैकेट चलाते हैं। पुलिस ने गत रविवार को वाई वाई बोन, अभिरैना, ऋषभ नायर, रवि तेजा, ईशु और रूथु को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्त में आए आरोपितों में वह मकान मालिक भी शामिल है, जिसके यहां अन्य पांच रहते थे और लोगों को धार्मिक पुस्तक पढ़ने के लिए बुलाते थे। युवतियों से जब पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो उन्होंने कहा कि परास्नातक की पढ़ाई करने के लिए आई थीं और कई युवतियों के संपर्क में आ गईं। धार्मिक पुस्तक पढ़ने के लिए अबतक युवतियों ने कितने लोगों को उकसाया इस बारे में उन्होंने पुलिस को कोई जानकारी नहीं दी है। शिकायतकर्ता के मुताबिक जेपी विशटाउन और वाजिदपुर गांव के पास स्थित गुलशन माल के आसपास से गुजरने वाली किशोरियों को जबरन दूसरे धर्म की पुस्तकें पढ़ने के लिए बरगलाते थे। पिछले कुछ दिनों से गुलशन माल और विश टाउन के आसपास एक समुदाय विशेष के लोग सक्रिय थे जो किशोरियों को रास्ते में रोककर उनको भ्रमित कर धार्मिक पुस्तक पढ़ाकर मतांतरण का प्रयास कर रहे हैं।

मतांतरण कराने का प्रयास करने वाली कुछ महिलाएं और युवतियां आंध्र प्रदेश, केरल, कोलकाता और तमिलनाडु की रहने वाली हैं। आरोपित युवतियां और महिलाएं आसपास की युवतियों को घर पर बुलाती हैं ताकि उनका मतांतरण किया जा सके। उनकी बेटी भी कुछ इसी तरीके से शिकार हुई थी, लेकिन उसने घर जाने से मना कर दिया। बाद में फोन नंबर पर कॉल आने लगी। पुलिस आरोपित युवतियों समेत अन्य से इस बात की जानकारी जुटा रही कि अबतक कितने लोगों का मतांतरण कराया गया है। पुलिस अब युवतियों का बैकग्राउंड खंगालने में जुट गई है। पुलिस इनके मोबाइल की भी जांच करने की बात कह रही है। युवतियां दूसरे राज्य से कब और क्या करने के लिए आईं टीम इसकी जानकारी जुटा रही है।

छह के अलावा कई अन्य लोगों की भी इसमें संलिप्तता बताई जा रही है। युवतियों ने बीते कुछ दिन में जिनसे संपर्क किया उनका ब्यौरा एकत्र किया जा रहा है। बता दें कि वर्ष 2021 में नोएडा के सेक्टर-117 में मौजूद नोएडा डीफ सोसायटी समेत कई मूक बधिर स्कूलों के करीब 18 बच्चों का मतांतरण कराया गया था।

Share.

Leave A Reply