Date: 30/05/2024, Time:

समाजवादी पार्टी कांग्रेस को 17 सीटें देने पर राजी, प्रियंका का अखिलेश को फोन और बन गई बात

0

लखनऊ 21 फरवरी। यूपी में समाजवादी पार्टी-कांग्रेस गठबंधन को लेकर चल रही खींचतान पर विराम लगता नजर आ रहा है। सपा कांग्रेस को 17 सीटें देने पर राजी हो गई। दोनों दलों के बीच सुलह कराने में प्रियंका गांधी का अहम रोल बताया जा रहा है। प्रियंका ने ही राहुल और सपा प्रमुख अखिलेश यादव की फोन पर बात कराई है।

कांग्रेस ने अखिलेश की दी हुई सीटों पर आखिर में दो बदलाव मांगे थे. पहला- हाथरस सपा को वापस देकर सीतापुर दी जाए. सपा ने कांग्रेस की इस मांग को मान लिया. वहीं, दूसरा बुलंदशहर या मथुरा में से एक सीट सपा ले ले और कांग्रेस को श्रावस्ती दे दें. अखिलेश ने श्रावस्ती देने पर सहानुभूति पूर्वक विचार करके शाम तक जवाब देने को कहा है. इसके बाद ही दोनों नेता (अखिलेश और प्रियंका) सहमत हो गए और गठबंधन पर मुहर लग पाई. प्रियंका चाहती थीं कि मुरादाबाद में राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा से पहले गठबंधन पर बात बन जाए. 24 फरवरी को यात्रा दोबारा मुरादाबाद से शुरू हो रही है. प्रियंका भी इसमें शामिल होने जा रही हैं.

आज यानी बुधवार को शाम पांच बजे लखनऊ में कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के बीच गठबंधन को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस हो सकती है. इसमें कांग्रेस से अविनाश पांडे और समाजवादी पार्टी से प्रदेश अध्यक्ष और राजेन्द्र चौधरी रहेंगे. इस बीच, अखिलेश यादव ने कहा है कि कांग्रेस के साथ गठबंधन होगा. जल्द गठबंधन होगा. गठबंधन में कोई दिक्कत नहीं है. अखिलेश ने मुरादाबाद में ये बयान दिया.
सपा ने कांग्रेस को 17 सीटें दी हैं. इसमे रायबरेली, अमेठी, कानपुर, फतेहपुर सीकरी, बांसगांव, सहारनपुर, प्रयागराज, महाराजगंज, वाराणसी, अमरोहा, झांसी, बुलंदशहर, गाजियाबाद, मथुरा, सीतापुर, बाराबंकी और देवरिया हैं. बुलंदशहर या मथुरा में से एक सीट कांग्रेस लौटा देगी और उसके बदले में श्रावस्ती लेगी. अखिलेश यादव ने इस पर लगभग सहमति दे दी है.

दरअसल गठबंधन के लिए सपा शर्त रख रही थी, लेकिन कांग्रेस की पूरी कोशिश थी कि यूपी में दोनों पार्टियां साथ लड़ें. कांग्रेस का मानना है कि सामने बड़ी लड़ाई है इसलिए साथ जरूरी है. कांग्रेस सीटों की संख्या ज्यादा नहीं चाहती थी. वो जीत सकने वाली सीटें चाहती थी. कांग्रेस का कहना था कि 2019 में बसपा के साथ गठजोड़ में मुरादाबाद मंडल में सपा ने 6 में से 3-3 सीटों का समझौता किया था, हम तो सिर्फ दो ही मांग रहे हैं.

Share.

Leave A Reply