Date: 20/02/2024, Time:

रोडैक्स कंपनी ने देशभर के हजारों लोगों को लगाया 300 करोड़ का चूना, मालिक समेत 9 लोगों पर एफआईआर दर्ज

0

बरेली 15 जनवरी। दिल्ली की रोडैक्स स्मैप लॉजिस्टिक्स कंपनी ने बरेली समेत देशभर में हजारों लोगों को फ्रेंचाइजी देने के नाम पर करीब 300 करोड़ रुपये का चूना लगा दिया। एसएसपी के आदेश पर ठगों के खिलाफ बारादरी थाने में कंपनी के मालिक समेत नौ लोगों पर एफआईआर दर्ज कराई गई है।

गोल्डन ग्रीन पार्क निवासी पवन शर्मा ने एसएसपी से की शिकायत में कहा है कि करीब एक साल पहले दिल्ली की रोडैक्स स्मैप लॉजिस्टिक्स कंपनी द्वारा देश भर में पार्सल डिलीवरी के लिए फ्रेंचाइजी देने का विज्ञापन दिया था। कंपनी के लोगों के विश्वास में आकर फ्रेंचाइजी लेने के लिए उन्होंने कंपनी के खाते में 10.25 लाख, मैफेयर लॉन के पास रहने वाली प्रिया सक्सेना ने 5.11 लाख, कीर्तिनगर के क्षितिज रघुवंशी ने 2.18 लाख, पीलीभीत बाईपास के राजेंद्र पाल ने 1.18 लाख और सुरेश शर्मा नगर के विनय पटेल ने 1.18 लाख रुपये जमा कर दिए। काम शुरू करने के लिए 90 दिन का समय दिया गया लेकिन जब इसके बाद भी काम शुरू नहीं हुआ तो उन लोगों ने दिल्ली जाकर कंपनी से संपर्क किया। वहां मिले कर्मचारियों ने शीघ्र ही काम शुरू होने का आश्वासन दिया। ई मेल से रकम वापसी को कहा। दिल्ली में कंपनी के ऑफिस पहुंचे तो पता चला कि वे सभी सामान समेटकर वहां से फरार हो चुके हैं।

पीड़ितों की तहरीर पर थाना बारादरी में कंपनी के मालिक सुदीप्तो मुखर्जी व सुब्रोतो मुखर्जी, कर्मचारी आदित्य, श्रेया, सचिन, संतोष, अमन गुप्ता, निखिल, नाहिद परवीन के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। आरोप है कि यह सभी आरोपी फोन के जरिये इन लोगों के संपर्क में थे और झांसा देकर ठगी की है।

प्रिया सक्सेना के पति उत्कर्ष ने बताया कि इस कंपनी ने पूरे देश में हजारों लोगों को जाल में फंसाया। बरेली के पांच लोगों से करीब 20 लाख रुपये ठगे हैं। आशंका जताई है कि गिरोह देश छोड़कर भागने की फिराक में है।

ठगी के शिकार हुए लोगों का कहना है कि वे लोग निजी कंपनियों में नौकरी करके अपना गुजारा करते थे। इस कंपनी के संपर्क में आकर कारोबार शुरू करने का प्लान किया लेकिन सभी के साथ ठगी हो गई और जमापूंजी भी चली गई। इससे वे सभी आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं।

Share.

Leave A Reply