Date: 28/02/2024, Time:

अस्पताल की मोर्चरी में किशोरी के शव की आंखे निकाल ले गए चूहे! मचा हड़कंप

0

बस्ती 03 फरवरी। यूपी के बस्ती जिले के सोनहा थाना क्षेत्र के शंकरपुर गांव में एक किशोरी ने आत्महत्या की कोशिश की। हालत बिगड़ने पर उसे जिला अस्पताल ले जाया गया। यहां उसकी मौत हो गई। जिसके बाद किशोरी का शव अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया गया। अगले दिन जब शव को पोस्टमार्टम के लिए बाहर निकाला गया तो शव की दोनों आंखे गायब थी। यह खबर फैलते ही स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया। परिजन ने अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाया है।

जिले के सोनहा थाना क्षेत्र के रहने वाली एक किशोरी ने अज्ञात कारणों से अपने घर के अंदर कल देर शाम जहरीला पदार्थ खा लिया, जिसके बाद किशोरी के परिजन आनन फानन में इलाज के लिए किशोरी को बस्ती के जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। कुछ देर तक डॉक्टरों ने किशोरी का इलाज किया, कुछ इंजेक्शन दिए, लेकिन थोड़ी ही देर बाद किशोरी की मौत हो गई। अस्पताल के कर्मचारियों ने शव को मोर्चरी में रख दिया। कहा कि शुक्रवार को शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा। परिवार के लोग अगले दिन पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे। शव को बाहर निकाला गया। इस दौरान देखा तो शव से दोनों आंखें गायब थीं। आंख वाली जगह से खून बाहर निकला हुआ था, ऐसा लग रहा था कि किसी ने दोनों आंखें निकाल ली हैं। जबकि दबी जुबान में अस्पताल के कर्मचारी कह रहे कि यह काम चूहों का है।

लाश से आंख निकलने की बात सामने आने के बाद पोस्टमार्टम करने वाले कर्मचारियों ने पोस्टमार्टम की प्रक्रिया को रोक दिया और उच्च अधिकारियों को इस बात की जानकारी दी। इसके बाद डॉक्टरों का पैनल पूरे मामले की जांच करने के लिए पीएम हाउस पहुंचा। डॉक्टरों की टीम ने शव का परीक्षण किया और मृत किशोरी के परिजनों को बुलाकर सफाई दी कि जहर के असर की वजह से आंख से कुछ तरल पदार्थ निकला है, पूरी आंख सही सलामत है। मगर परिजन इस तर्क से संतुष्ट नहीं हुए और प्रशासनिक अधिकारियों से पूरे मामले की शिकायत की बात कही।

इस बारे में डिप्टी सीएमओ डॉक्टर एके चौधरी ने बताया कि ऐसा पहली बार हुआ है। आंखों के सभी पार्ट हैं। केवल आंख के अंदर का लिक्विड जिसे विट्रस ह्यूमर बोला जाता है, यह एक जेली टाइप का होता है, यह गल जाने से आंखें चिपक गईं थीं। शव को डीप फ्रीजर में रखने के बाद प्रेशर बढ़ने पर आंख का लिक्विड निकल जाता है। इसके बाद ऐसा लगता है कि आंख है ही नहीं। आंख सही सलामत है। आंख से कोई छेड़छाड़ नहीं की गई है। चूहों द्वारा आंख कुतरने की बात पर डिप्टी सीएमओ ने कहा कि इस मामले में कुछ कहना अभी जल्दबाजी होगी।

Share.

Leave A Reply