Date: 14/06/2024, Time:

यूपी के 30 से अधिक जिलों में कल से बारिश-ओले का अलर्ट

0

लखनऊ 29 फरवरी। यूपी में लगातार मौसम मे उतार-चढ़ाव जारी है. फरवरी माह में कई बार पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से कई इलाकों में गरज-चमक के साथ बारिश होती रही. तेज हवाएं भी चलीं. ओलावृष्टि भी हुई. इससे किसानों को काफी नुकसान हुआ. हालांकि बारिश से गेहूं की फसलों को फायदा भी पहुंचा. अब मार्च की शुरुआत से ही फिर से मौसम बदलने वाला है. मौसम विज्ञान विभाग ने इसका अलर्ट भी जारी कर दिया है. 1 से लेकर 4 मार्च तक यूपी के 30 से अधिक जिलों में गरज-चमक के साथ बारिश होगी. 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे के तेज रफ्तार से हवा भी चलेंगी. कई इलाकों में ओलावृष्टि भी हो सकती है. इससे फसलों को नुकसान होगा.

पिछले 24 घंटे में यूपी का उरई जिला सबसे अधिक गर्म जिला रहा. अधिकतम तापमान 29 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया. बिजनौर सबसे ठंडा जिला रहा जहां पर न्यूनतम तापमान 7.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया. मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार गुरुवार को ज्यादातर इलाकों में मौसम शुष्क रहेगा. पूर्वी तथा पश्चिमी उत्तर प्रदेश के आइसोलेटेड स्थान पर गरज-चमक के साथ हल्की बारिश होने की संभावना है.

राजधानी लखनऊ में बुधवार को कई स्थानों पर बादल छाए रहे. ठंडी हवाओं के चलने से सुबह व शाम के समय मौसम में ठंड बरकरार है. अधिकतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया जो कि सामान्य से एक डिग्री सेल्सियस कम है. न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया जो कि सामान्य है. मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार गुरुवार को राजधानी लखनऊ में कुछ स्थानों पर बादल छाए रहेंगे. अधिकतम तापमान 28 व न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है.
प्रयागराज प्रयागराज में न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया जो कि 2 डिग्री सेल्सियस कम है. अधिकतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया जो कि सामान्य से दो डिग्री सेल्सियस कम है.
मेरठ में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया जो कि सामान्य से 1.5 डिग्री सेल्सियस कम है. अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया जो कि सामान्य है.

मौसम विभाग के मुताबिक, 1 मार्च से प्रदेश के 33 शहरों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। इनमें ज्यादातर शहर पश्चिमी यूपी के हैं। इन शहरों में सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, शामली, बिजनौर, बागपत, मरेठ, गाजियाबाद, हापुड़, मुरादाबाद, गौतमबुद्धनगर, बुलंदशहर, संभल, अलीगढ़, मथुरा, हाथरस, आगरा, फिरोजाबाद, रामपुर, बरेली, बदायूं, एटा, मैनपुरी, फर्रुखाबाद, शाहजहांपुर, पीलीभीत, लखीमपुर-खीरी, हरदोई, कन्रौज, औरैया, कानपुर देहात, जालौन, झांसी, कानपुर नगर है। इसके अलावा, बिहार में 10 जिलों में बारिश का अलर्ट है।

मौसम वैज्ञानिक के मुताबिक, दूसरी ओर मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ के एक्टिव होने के कारण 1 मार्च से यूपी पर इसका असर पड़ सकता है. 2 मार्च की सुबह तक हाल ऐसा हो सकता है कि यह पूर्वी यूपी के कई इलाकों तक फैल सकता है. जिससे रुक-रुक कर बारिश 3 मार्च तक जारी रहने की संभावना है. 4 मार्च से कमी दर्ज की जा सकेगी. 2 मार्च को पश्चिमी यूपी में जगह जगह ओलावृष्टि भी हो सकती है.

Share.

Leave A Reply