Date: 18/06/2024, Time:

बाइक के इंजन से बना दी रेसिंग कार, 6 महीने में हुई तैयार; कीमत महज 1.50 लाख

0

जबलपुर 17 मई। कार का नाम सुनते ही आपको बजट की चिंता होने लगती होगी. आपने सुना है कि कोई रेसिंग कार महज डेढ़ लाख में तैयार की जा सकती है, वह भी सेकंड हैंड पल्सर बाइक के इंजन से, जो डेढ़ सौ किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से भागती हो. यह कारनामा कर दिखाया है मध्यप्रदेश के सबसे पुराने जबलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज के स्टूडेंट्स ने. जिन्होंने पल्सर 150 बाइक के इंजन से रेसिंग कार बना दी है. इसकी कीमत महज डेढ़ लाख रुपए हैं.

जबलपुर के इंजीनियरिंग कॉलेज के स्टूडेंट मोहम्मद हुसैन ने बताया कि महज डेढ़ लाख रुपए में रेसिंग कार तैयार की गई है, जो डेढ़ सौ किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार तक भागेगी. इसे जबलपुर में ही असेंबल किया गया है. इसके पार्ट्स देशभर की कई जगहों से लाए गए हैं. उन्होंने बताया कि जो पार्ट्स जबलपुर में नहीं मिले. उन्हें दिल्ली, पुणे, इंदौर जैसे बड़े शहरों से लाया गया है. इस रेसिंग कार के टायर को इंदौर से लाया गया है. कार के स्पेशल फ्रेम पाइप्स सहित चेचिस मटेरियल दिल्ली से सेफ्टी गियर पुणे से मंगवाए गए हैं. इस रेसिंग कार को सड़क पर नहीं, सीमेंटेड ट्रैक पर ही चलाया जा सकता है.

इस रेसिंग कार को 6 महीने में तैयार किया गया है. इसमें कॉलेज के 30 स्टूडेंट्स की टीम ने मेहनत की है. मैकेनिकल स्टूडेंट का कहना है कि यह कार बाजार में तीन से चार लाख रुपए में मिलती है. यह फार्मूला रेसिंग कार की तरह है. जिसे डामर या अन्य सड़कों पर नहीं सिर्फ सीमेंट ट्रैकों पर ही चलाया जा सकता है. यह कार जमीन से ढाई सेंटीमीटर ऊपर तक ही चल सकती है. इस कार में 5 गियर और 4 टायर हैं. टायर की लंबाई करीब 6 इंच है. इस कार को पेट्रोल से चलाया जाता है. कार में साढ़े 4 लीटर का पेट्रोल टैंक लगाया गया है. इसे गोकार्ट कार कहा जाता है. हालांकि गोकार्ट कार में कुछ काम बाकी है, जिसमें कलर पेंटिंग और बंपर लगाया जाना है.

मैकेनिकल स्टूडेंट इस गोकार्ट कार को कोल्हापुर में होने जा रहे इंडियन कार्टिंग चैंपियनशिप में लेकर जाएंगे. इसके लिए स्टूडेंट्स ने रजिस्ट्रेशन कराया है. स्टूडेंट का कहना है कि गोकार्ट कार को पूरी सेफ्टी से बनाया गया है. हालांकि गोकार्ट कार में कुछ काम बाकी है, जिसमें कलर पेंटिंग और बंपर लगाया जाना है.

Share.

Leave A Reply