Date: 28/02/2024, Time:

बुलंदशहर को पीएम मोदी ने दी 20 हजार करोड़ की सौगात, बोले- प्राण प्रतिष्ठा संपन्न, अब राष्ट्र प्रतिष्ठा का समय

0

बुलंदशहर 25 जनवरी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर पहुंचे। पीएम इस दौरान कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन किया। इसके बाद पीएम ने जनसभा को भी संबोधित किया। इससे पहले मंच पर स्थानीय नेताओं ने उन्हें भगवान राम की मूर्ति भेंट की। सीएम योगी आदित्यनाथ ने पीएम नरेंद्र मोदी और राज्यपाल आनंदी पटेल का स्वागत किया।
अयोध्या में श्रीरामलला के प्राण प्रतिष्ठा के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज मिशन 2024 के लिए चुनावी रैलियों का शंखनाद किया। पीएम मोदी बुलंदशहर में लोकसभा चुनाव से पूर्व की पहली चुनावी रैली को संबोधित किया। पीएम मोदी ने सबसे पहले राज्यपाल, सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम बृजेश पाठक, केंद्रीय मंत्री वीके सिंह, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी व अन्य नेताओं का आभार व्यक्त किया।

जानकारी के मुताबिक, कार्यक्रम में पीएम ने 19,100 करोड़ रुपये से अधिक की कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन किया, जिसमें रेल, सड़क, तेल व गैस और शहरी विकास एवं आवास जैसे कई महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट हैं.

इसके बाद प्रधानमंत्री ने लोगों से कहा, “मैं आपके प्यार के लिए अभिभूत हूं। यह समय माताओं और महिलाओं के लिए सबसे व्यस्त समय होता है, लेकिन सबकुछ छोड़कर माता और बहनें आशर्वाद देने आईं। इसके लिए प्रणाम। 22 तारीख को अयोध्या में भगवान श्रीराम के दर्शन हुए और अब यहां जनता के दर्शन का सौभाग्य मिला है। आज पश्चिमी यूपी को विकास के लिए 19 हजार करोड़ से अधिक के प्रोजेक्ट भी मिले हैं।

पीएम मोदी ने कहा, “मैं बुलंदशहर समेत वेस्टर्न यूपी के सभी परिवारजनों को बहुत-बहुत बधाई देता हू. भाइयों और बहनों इस क्षेत्र ने तो देश को कल्याण सिंह जैसा सपूत दिया है, जिन्होंने राम काज और राष्ट्र काज दोनों के लिए अपना जीवन समर्पित किया. आज वो जहां हैं, अयोध्या धाम को देखकर बहुत आनंदित हो रहे होंगे. ये हमारा सौभाग्य है कि देश ने कल्याण सिंह जैसे और उनके जैसे अनेक लोगों का सपना पूरा किया है, लेकिन अभी भी सशक्त राष्ट्र निर्माण का, सच्चे सामाजिक न्याय का उनका स्वप्न पूरा करने के लिए हमें अपनी गति बढ़ानी है. इसके लिए हमें मिलकर काम करना है.”

उन्होंने कहा, “साथियों अयोध्या में मैंने रामलला के सानिध्य में कहा था कि प्राण प्रतिष्ठा का काम संपूर्ण हुआ और अब राष्ट्र प्रतिष्ठा को नईं ऊंचाई देने का समय है. हमें देव से देश और राम से राष्ट्र के मार्ग को और प्रशस्त करना है. हमारा लक्ष्य 2047 तक भारत को विकसित राष्ट्र बनाना है और लक्ष्य बड़ा हो तो उसके लिए हर साधन जुटाना होता है. सबको मिलकर प्रयास करना होता है. विकसित भारत का निर्माण भी यूपी के तेज विकास के बिना संभव नहीं है. इसके लिए हमें खेत खलिहान से लेकर ज्ञान, विज्ञान, उद्योग और उद्यम तक, हर शक्ति को जगाना है. आज का ये आयोजन इसी दिशा में एक और कदम है.”

पीएम मोदी ने आगे कहा साथियों, “आजादी के बाद के दशकों में लंबे समय तक भारत में विकास को सिर्फ कुछ ही क्षेत्रों में सीमित रखा गया, देश का एक बहुत बड़ा हिस्सा विकास से वंचित रहा. इसमें भी उत्तर प्रदेश जहां देश की सबसे अधिक आबादी बसती थी, उस पर उतना ध्यान नहीं दिया गया. ये इसलिए हुआ क्योंकि लंबे समय तक यहां सरकार चलाने वालों ने शासकों की तरह बर्ताव किया, जनता को अभाव में रखने का, समाज में बंटवारे का रास्ता उनको सत्ता पाने का सबसे सरल माध्यम लगा, जिसकी कीमत उत्तर प्रदेश की अनेक पीढ़ियों ने भुगती है, लेकिन साथ-साथ देश को भी इसका बहुत बड़ा नुकसान हुआ है. जब देश का सबसे बड़ा राज्य ही कमजोर हो तो देश कैसे ताकतवर हो सकता था.”

उन्होंने कहा कि, आज भारत में दो बड़े डिफेंस कॉरिडोर पर काम चल रहा है, उनमें से एक पश्चिमी यूपी में बन रहा है, आज भारत में नेशनल हाइवे का तेजी से विकास हो रहा है, उसमें से अनेक प्रोजेक्ट पश्चिमी यूपी में बन रहे हैं. आज हम यूपी के हर हिस्से को आधुनिक एक्सप्रेसवे से कनेक्ट कर रहे हैं. भारत का पहला नमो भारत ट्रेन प्रोजेक्ट पश्चिमी यूपी में ही शुरू हुआ है. यूपी के कई शहर मेट्रो सुविधा से जुड़ रहे हैं. यूपी ईस्टर्न और वेस्टर्न डिडेकेटेड फ्रेट कॉरिडोर का हब बन रहा है. आने वाली शताब्दियों का इसका महत्व रहेगा, जो आपके नसीब में आया है. जब जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनकर तैयार हो जाएगा, तो इस क्षेत्र को नई ताकत और नई उड़ान मिलने वाली है.

पीएम ने कहा, साथियों सरकार के प्रयासों से आज पश्चिमी उत्तर प्रदेश रोजगार देने वाले प्रमुख सेंटरों में से एक बन रहा है. केंद्र सरकार देश में चार नए औद्योगिक स्मार्ट शहर बनाने की तैयारी में है. ऐसे नए शहर जो दुनिया के श्रेष्ट मैन्युफैक्चरिंग और निवेश स्थलों को टक्कर दे सके. इसमें से एक औद्योगिक स्मार्ट शहर पश्चिमी यूपी के ग्रेटर नोएडा में बना है. आज मुझे इस महत्वपूर्ण टाउनशिप का उद्घाटन करने का सौभाग्य मिला है. यहां हर वो बुनियादी सुविधाएं विकसित की गईं हैं, जो रोजमर्रा के जीनव में कारोबार के लिए चाहिए. अब ये शहर दुनियाभर के निवेशकों के लिए तैयार है. इसका लाभ यूपी के खासकर पश्चिमी यूपी के हर छोटे, लघु और कुटीर उद्योग को भी होगा. इसके बहुत बड़े लाभार्थी किसान परिवार और खेत मजदूर भी होंगे. यहां कृषि आधारित उद्योगों के लिए नई संभावनाएं बनेंगी.

बुलंदशहर में कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री ने डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर (डीएफसी) पर न्यू खुर्जा-न्यू रेवाड़ी के बीच 173 किलोमीटर लंबी डबल लाइन, मथुरा-पलवल सेक्शन और चिपियाना बुजुर्ग-दादरी सेक्शन को जोड़ने वाली चौथी लाइन, अलीगढ़ से भदवास चार लेन वाला वर्क पैकेज-1 (एनएच-34 के अलीगढ-कानपुर खंड का हिस्सा), एनएच-709ए की चौड़ाई बढ़ाने, एनएच-709एडी पैकेज-II के शामली-मुजफ्फरनगर सेक्शन को चार लेन करने व अन्य रोड प्रोजेक्ट का उद्घाटन किया.

प्रधानमंत्री इस दौरान इंडियन ऑयल की टूंडला-गवारिया पाइपलाइन का भी उद्घाटन किया. करीब 700 करोड़ रुपये की लागत से बना यह 255 किलोमीटर लंबा पाइपलाइन प्रोजेक्ट तय समय से काफी पहले पूरा हो गया है. पीएम ग्रेटर नोएडा में 747 एकड़ में फैले इंटीग्रेटिड इंडस्ट्रियल टाउनशिप प्रोजेक्ट का भी उद्घाटन किया. 1,714 करोड़ रुपये की लागत वाला यह प्रोजेक्ट दक्षिण में ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे और पूर्व में दिल्ली-हावड़ा ब्रॉड गेज रेलवे लाइन के साथ लगा है. इसके अलावा पीएम करीब 460 करोड़ रुपये की लागत से बने सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी), मथुरा सीवरेज योजना, मुरादाबाद (रामगंगा) सीवरेज प्रणाली और एसटीपी कार्यों का भी उद्घाटन किया.

Share.

Leave A Reply