Date: 30/05/2024, Time:

फास्टैग देने वाले बैंकों की लिस्ट से Paytm का नाम हटा, एनएचएआई ने जारी की 32 बैंकों की लिस्ट

0

नई दिल्ली 16 फरवरी। पेटीएम के फास्टैग यूजर्स के लिए बड़ी खबर है। नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) की रोड टोलिंग अथॉरिटी की ओर से फास्टैग यूजर्स के लिए एडवाइजरी जारी की गई है। संस्था द्वारा 32 बैंकों की एक लिस्ट निकाली गई है और यूजर्स को कहा गया है कि इन्हीं बैंकों से फास्टैग खरीदें। इस लिस्ट में पेटीएम पेमेंट्स बैंक फास्टैग का नाम नहीं था। इसका सीधा मतलब है कि पेटीएम फास्टैग यूजर्स को नया फास्टैग लेना होगा। एक अनुमान के मुताबिक, देश में 2 करोड़ से ज्यादा पेटीएम फास्टैग यूजर्स हैं।

बता दें, आरबीआई की ओर से पेटीएम पेमेंट बैंक पर रोक लगा दी गई है। केंद्रीय बैंक के निर्देश के अनुसार 29 फरवरी के बाद पेटीएम पेमेंट बैंक को करीब अपनी सभी सेवाएं रोक दी है।

एनएचएआई ने फास्टैग सर्विसेज के लिए जिन बैंकों को लिस्ट किया है उनमें एयरटेल पेमेंट्स बैंक, इलाहाबाद बैंक, एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक, एक्सिस बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, केनरा बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, सिटी यूनियन बैंक, कॉसमॉस बैंक, इक्विटियास स्मॉल शामिल हैं.

नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया की ओर से सोशल मीडिया हैंडल एक्स पर एक पोस्ट किया गया है, जिसमें कहा गया है कि बिना किसी झंझट के फास्टैग के साथ ट्रैवल करें। केवल नीचे दिए गए बैंकों से ही अपना फास्टैग खरीदें। इस लिस्ट में कुछ 32 बैंकों का नाम जारी किया गया है, जिसमें पेटीएम नहीं है।

आईएचएमसीएल ने कहा कि वह ‘फास्टैग’ उपयोगकर्ताओं को आरबीआई दिशानिर्देशों के तहत नवीनतम ‘फास्टैग’ केवाईसी (अपने ग्राहक को जानें) प्रक्रिया को पूरा करने के लिए प्रोत्साहित कर रहा है. करीब 98 प्रतिशत की पहुंच दर और आठ करोड़ से अधिक उपयोगकर्ताओं के साथ रेडियो – फ़्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (आरएफआईडी) प्रौद्योगिकी से लैस ‘फास्टैग’, उपयोगकर्ताओं को सीधे लिंक किए गए बैंक खातों से राजमार्ग टोल शुल्क का भुगतान करने की सेवा प्रदान करता है.

बता दें, भारत में करीब 7 करोड़ के आसपास फास्टैग यूजर्स हैं और पेटीएम पेमेंट बैंक का दावा है कि उसके पास करीब इसमें 30 प्रतिशत से ज्यादा का मार्केट शेयर। ऐसे में पेटीएम पेमेंट बैंक यूजर्स की अनुमानित संख्या 2 करोड़ के आसपास होने का अनुमान है।

Share.

Leave A Reply