Date: 15/06/2024, Time:

आठ हजार से अधिक संदिग्ध मोबाइल नंबर बंद, 52 कंपनियों को किया ब्‍लैक लिस्‍ट 

0

नई दिल्ली 08 मई। दूरसंचार विभाग ने साइबर अपराध और धोखाधड़ी में शामिल मोबाइल फोन को ब्लॉक करने के साथ ही उनके नंबरों को बंद करना शुरू कर दिया है। विभाग यह काम ‘चक्षु’ पोर्टल के माध्यम से कर रहा है, जिसे दो माह पहले शुरू किया गया था।

52 कंपनियां काली सूची में
पोर्टल शुरू होने के बाद से विभाग ने दुर्भावनापूर्ण और गलत इरादे से एसएमएस भेजने में शामिल 52 इकाइयों को काली सूची में डाल दिया है साथ ही देशभर में 348 मोबाइल हैंडसेट को ब्लॉक कर दिया है। दूरसंचार विभाग ने 700 एसएमएस सामग्री ‘टेम्पलेट्स’ को निष्क्रिय कर दिया है। विभाग ने लोगों से कहा कि यदि आप ऐसी कोई घटना देखते हैं. तो कृपया तुरंत संदिग्ध धोखाधड़ी की रिपोर्ट चक्षु पोर्टल पर करें।

आईएमईआई भी बंद किए
इसके अलावा 10,834 संदिग्ध मोबाइल नंबरों को फिर से सत्यापन के लिए चिह्नित किया गया है। 30 अप्रैल 2024 तक फिर से सत्यापन में विफल रहने पर 8 272 मोबाइल कनेक्शन काटे गए हैं। इसके अलावा विभाग ने साइबर अपराधों और वित्तीय धोखाधड़ी या नकली अथवा जाली दस्तावेजों पर लिए गए मोबाइल कनेक्शन में शामिल होने के कारण 1.58 लाख विशिष्ट मोबाइल पहचान संख्या आईएमईआई को भी ब्लॉक कर दिया है।

अब तक 1.66 करोड़ कनेक्शन काटे गए
आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, इस साल 30 अप्रैल तक विभाग ने कुल 1.66 करोड़ मोबाइल कनेक्शन काट दिए हैं। इनमें से 30.14 लाख उपयोगकर्ताओं की प्रतिक्रिया के आधार पर और 53.78 लाख नए सिम कार्ड खरीदने की व्यक्तिगत सीमा पार करने के कारण काटे गए हैं।

कैसे करें शिकायत
■ संचार साथी के पोर्टल (https://sancharsaathi. gov.in) पर जाएं। होमपेज पर नीचे की ओर सिटीजन सर्विस विकल्प में Report Suspected Fraud Communication CHAKSHU पर क्लिक करें।
■ फिर कंटीन्यू का बटन दबाएं। इससे चक्षु मंच खुल जाएगा। सबसे पहले Call/SMS/ WhatsApp में से जिस माध्यम से संपर्क किया जा रहा है, उसे बताएं।
■ Select Suspected Fraud Category में किस श्रेणी में धोखाधड़ी की कोशिश की जा रही है उसे बताएं। इसके बाद प्रमाण के लिए स्क्रीनशॉट अटैच करें। शिकायत 500 शब्दों में दर्ज करें। इसके बाद नाम मोबाइल नंबर दर्ज करें। फिर ओटीपी से सत्यापन करें।

Share.

Leave A Reply