Date: 21/02/2024, Time:

केजरीवाल सरकार 6 बलिदानियों के परिवारों को देगी एक-एक करोड़

0

नई दिल्ली 17 जनवरी। दिल्ली सरकार की तरफ से एक बड़ी घोषणा की गई है। केजरीवाल सरकार दिल्ली के शहीद जवानों के परिवारों को एक-एक करोड़ रुपए की सम्मान राशि देने के प्रस्ताव को दी मंजूरी दे दी है। इस बात की जानकारी दिल्ली की कैबिनेट मीनिस्टर आतिशी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में दी है। आतिशी ने बताया कि ड्यूटी के दौरान अपने प्राणों का बलिदान देने वाले दिल्ली के 6 जवानों के परिवारों को नुकसान की भरपाई तो नहीं कर सकती, लेकिन सरकार उन्हें सम्मानजनक जीवन जीने में जरूर मदद करेगी। सरकार प्रत्येक शहीद के परिवार को एक करोड़ रुपए की सम्मान राशि देगी।

आतिशी ने बताया कि केजरीवाल सरकार एएसआई ओम प्रकाश, राधेश्याम, मेजर रघुनाथ, कैप्टन जयंत जोशी, दिल्ली सिविल डिफेंस कर्मी पुनीत गुप्ता और फायर ऑपरेटर प्रवीर कुमार के परिवार को घोषित सम्मान राशि देगी। आतिशी यह भी बताया दिल्ली सरकार सेना, पुलिस, पैरामिलिट्री, दिल्ली सिविल डिफेंस, होम गार्ड के जवानों की बहादुरी का सम्मान करती है। इसलिए जैसे ही इस संबंध में राजस्व विभाग से प्रस्ताव आया तो सीएम अरविंद केजरीवाल ने इसे अपनी मंजूरी दे दी है।
दिल्ली पुलिस के एएसआई ओम प्रकाश ओखला इंडस्ट्रियल एरिया पुलिस स्टेशन में तैनात थे। घटना वाले दिन वह सी-लाल चौक पर ड्यूटी दे रहे थे, करीब 11.45 बजे नियमों का उल्लंघन करने वाले एक बाइक पर बैठे 3 लोगों रोकते हुए हादसे का शिकार हो गए। इसमे उनके सिर पर गंभीर चोट लग गई। इलाज के दौरान AIIMS में उन्होंने दम तोड़ दिया।

मेजर रघुनाथ (भारतीय सेना)
भारतीय सेना की तीसरी बटालियन, पैराशूट रेजिमेंट (स्पेशल फोर्सेज) के सैनिक मेजर रघुनाथ द्वारका के रहने वाले थे। जम्मू-कश्मीर में LoC के पास संयुक्त तलाशी अभियान के दौरान 5 मई 2022 को रात 10 बजे करीब मौसम खराब होने की वजह से मेजर रघुनाथ फिसलकर सलामाबाद नाले में गिर गए। इसमें उन्हें गंभीर चोटे आई इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया।
पुनीत गुप्ता (दिल्ली सिविल डिफ़ेंस)
पांडव नगर के रहने वाले पुनीत गुप्ता परिवहन विभाग में तैनात थे। घटना के दिन फील्ड ड्यूटी पर ट्रक को रोक रहे थे और उसने इन्हें टक्कर मार दी। वो गिर गए इसके तुरंत बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।
प्रवीण कुमार (फायर ऑपरेटर)
प्रवीण कुमार भोरगढ़ फायर स्टेशन में तैनात थे। सीआईएसएफ कैंप के पास एच-ब्लॉक में एक डिस्पोजेबल प्लेट बनाने वाली फैक्ट्री में आग लगने की घटना सामने आई है। आज बुझाने के अभियान के दौरान इमारत का पिछला हिस्सा ढह गया, जिससे प्रवीण कुमार सहित कई अग्निशमन कर्मी झुलस गए। उन्हें तुरंत लोक नायक अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन जलने के बाद सेप्टिसेमिक शॉक के कारण इलाज के दौरान प्रवीण कुमार जी शहीद हो गए।
एएसआई राधे श्याम (दिल्ली पुलिस)
दिल्ली पुलिस के एएसआई राधे श्याम को बुराड़ी सर्कल में दिल्ली पुलिस की ट्रैफिक पुलिस यूनिट में प्नियुक्त किया गया था। उन्हें आउटर रिंग रोड, आईटीआई धीरपुर के सामने ड्यूटी के दौरान एएसआई राधेश्याम को एक ट्रक ने टक्कर मार दी। इसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।
कैप्टन जयंत जोशी (भारतीय सेना)
द्वारका के रहने वाले कैप्टन जयंत जोशी भारतीय सेना की 254 आर्मी एवन स्क्वाड्रन (ALH) में तैनात थे। 3 अगस्त 2021 को कैप्टन जयंत जोशी को एक अभ्यास अभियान के लिए हेलीकॉप्टर के को-पायलट के रूप में नियुक्त किया गया। अभ्यास के दौरान उनका हेलीकॉप्टर लैंडिंग दुर्घटनाग्रस्त होकर पठानकोट के रंजीत सागर बांध में गिर गया और उस दुर्घटना में कैप्टन जयंत जोशी शहीद हो गए।
First

Share.

Leave A Reply