Date: 28/02/2024, Time:

अवैध प्लॉटिंग कर विक्रय करने वालों पर एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश

0

बरेली 15 जनवरी। बरेली-पीलीभीत बाईपास से जुड़े इलाकों में सरकारी और सीलिंग की करोड़ों की कीमत की जमीन पर कब्जा कर मकान बनाकर बेचने के मामले में कमिश्नर सौम्या अग्रवाल ने एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिया है। जांच में शिकायत सही मिलने पर उन्होंने डीएम को जमीन बेचने वालों की सूची बनाकर कार्रवाई के निर्देश दिए। प्रकरण में कब्जा करने वालों पर गैंगस्टर भी लगाया जाएगा। उन्होंने भू-माफिया पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

पिछले दिनों नगर के आरबी मौर्य ने कमिश्नर को दिए शिकायती पत्र में आरोप लगाया था कि शहर निवासी आरिफ ने बरेली-पीलीभीत बाईपास स्थित जगतपुर लाला बेगम, नवादा शेखान, हरुनगला में चकरोड, तालाबों की जमीन पर कब्जा कर लिया और इन जमीनों पर प्लॉट बनाकर और मकानों का निर्माण कराकर बेच दिया।

इसके अलावा शहर में सीलिंग की जमीन पर भी कब्जा किया है। इस मामले में कमिश्नर ने सीडीओ से जांच कराई थी। तहसीलदार सदर ने स्थलीय जांच की थी। इसमें पीलीभीत बाईपास से सटे जगतपुर लाला बेगम क्षेत्र में सबसे ज्यादा अवैध कब्जे पाए गए थे।

नवादा शेखान, बाहर चुंगी के समीप नगर सीलिंग की भूमि के अलावा अन्य जगहों पर भी कब्जा पाया गया था। जांच में सरकारी जमीन पर कई बरातघर चलने, तमाम मकान बनाकर बेच देने का खुलासा हुआ था। जांच रिपोर्ट के आधार पर कमिश्नर सौम्या अग्रवाल ने शनिवार को डीएम को अवैध प्लॉटिंग कर जमीन बेचने वालों की सूची बनाने के आदेश दिए। कमिश्नर ने कहा कि मामले में जो भी नाम प्रकाश में आते हैं, उनके खिलाफ राज्य सरकार को करोड़ों की क्षति पहुंचाने और अवैध कृत्यों से धन अर्जित करने के मामले में गैंगस्टर की भी कार्रवाई की जाए।

सरकारी और नगर सीलिंग की जमीन पर कब्जा कर निर्माण कराया गया। इस मामले में आरिफ का नाम सामने आया है। डीएम को अवैध प्लाटिंग करने वालों की सूची बनाने के निर्देश दिए गए हैं।

Share.

Leave A Reply