Date: 28/02/2024, Time:

शिमला में भारी बर्फबारी, 276 रूट पूरी तरह से बंद

0

शिमला 02 फरवरी। राजधानी शिमला में भी लोगों का बर्फबारी का इंतजार खत्म हो गया है। करीब दो साल बाद शिमला में बर्फबारी हुई है। शिमला शहर ने भी बर्फ की सफेद चादर ओढ़ ली है। वहीं शिमला शहर व ऊपरी शिमला के क्षेत्रों में हुए भारी हिमपात से ऊपरी क्षेत्रों का राजधानी शिमला से सम्पर्क कट गया है। बर्फबारी होने के चलते ऊपरी शिमला को जोड़ने वाले मार्ग यातायात के लिए बाधित हो गए हैं। वहीं एच. आर.टी.सी. के 276 रूटों पर पूरी तरह से बस सेवाएं बंद हो गईं और 64 बसें विभिन्न रूटों पर फंस गई हैं।

निगम अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार कुफरी, नारकंडा क्षेत्रों में भारी बर्फबारी से मागों में फिसलन अधिक है। ऐसे बसों का संचालन बंद कर दिया है। वहीं रात्रि सेवाएं भी आगामी दिनों में लिए बंद कर दी गईं। मार्ग खुलने के बाद ही बस सेवाएं बहाल होंगी। अधिकारियों ने बताया कि बस अड्डों में बसें ऊपरी शिमला के जाने वाले रूटों के लिए खड़ी हैं। शुक्रवार को ट्रायल पर एक बस भेजी जाएगी। यदि ट्रायल सफल रहा तो ही अन्य बसे रूटों पर भेजी जाएंगी।

शिमला शहर में भी वीरवार को बर्फबारी देखने को मिली। इस दौरान सुबह तो मौसम ठीक रहा लेकिन 11 बजे के बाद मौसम बिगड़ा और शिमला शहर के दांडा तक बर्फबारी हुई। इस दौरान शिमला शहर में बसों के पहिए थम गए। वहीं छोटी गाड़ियां भी नहीं चल पाई। ऐसे में कर्मचारी पैदल ही कार्यालयों के लिए पहुंचे। वहीं शाम को बसों की संभावना कम देखते हुए जल्द ही कार्यालय से निकल गए। करीब 4 बजे के बाद एक से-दो बसें ट्रायल के लिए बनाहट्‌टी व शोपी की और भेजीं लेकिन वे भी धीर-धरि अपने गंतव्य तक पहुंचीं।

बर्फबारी के चलते शिमला से कांगड़ा, धर्मशाला, मंडी आदि क्षेत्रों को जाने वाली बसें तवी-टुटु मार्ग पर फंसी रहीं। सड़क मार्ग पर फिसलन होने के कारण बसें भी देरी से रूटों पर गई। वहीं कांगड़ा-हमीपुर से आने वाली बसें शिमला आई. एस. बी. टी. नहीं पहुंच पाई।
प्रशासन से मिली जानकारी के अनुसार ऊपरी शिमला कुफरी, नारकंडा, खट्टापत्थर, कोटखाई, ठियोग, मतियाना में भारी हिमपात रिकॉर्ड किया गया है, जिससे सड़कें यातायात के लिए बंद हो गई हैं। हालांकि सड़कों को बहाल करने के लिए बुद्ध स्तर कार्य किया जा रहा है लेकिन लगातार हो रही बर्फबारी के चलते सड़कों को पाहनों की आवाजाही के लिए बहाल नहीं किया जा सका है।
यदि मौसम साफ रहा और सड़‌कें बसें चलाने की स्थिति में हुई तो ही ऊपरी शिमला को बसें भेजी जाएंगी। वहीं शिमला शहर में स्थिति के अनुसार बस चलाई जाएंगी।

Share.

Leave A Reply