Date: 18/07/2024, Time:

सरकार ने मधुमेह, दिल, लिवर व एलर्जी समेत 41 दवाओं के मूल्य घटाए

0

नई दिल्ली 17 मई। सरकार ने आम तौर पर इस्तेमाल होने वाली 41 दवाओं और मधुमेह, हृदय और लीवर जैसी बीमारियों के इलाज में इस्तेमाल होने वाले छह फॉर्मूलेशन की कीमतें कम कर दी हैं। फार्मास्यूटिकल्स विभाग और राष्ट्रीय फार्मास्युटिकल मूल्य निर्धारण प्राधिकरण (एनपीपीए) द्वारा जारी एक अधिसूचना के अनुसार, एंटासिड, मल्टीविटामिन और एंटीबायोटिक्स उन दवाओं में से हैं जो सस्ती हो जाएंगी।

फार्मा कंपनियों को निर्देश दिया गया है कि वे विभिन्न दवाओं के कम कीमत की जानकारी डीलरों और स्टॉकिस्टों को दें। फार्मास्यूटिकल्स विभाग और राष्ट्रीय फार्मास्यूटिकल मूल्य निर्धारण प्राधिकरण (एनपीपीए) द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार जिन दवाओं के लिए अब कम कीमत चुकानी होगी उनमें एंटासिड, मल्टीविटामिन और एंटीबायोटिक्स शामिल हैं। एनपीपीए की 143वीं बैठक में यह निर्णय लिया गया ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि आवश्यक दवाओं की कीमत जनता के लिए सस्ती रहे।

डायबिटीज के सबसे ज्यादा मामले भारत में पाए जाते हैं भारत दुनिया में मधुमेह के सबसे अधिक मामलों वाले देशों में से एक है, देश में 10 करोड़ से अधिक मधुमेह रोगी हैं, जिन्हें कीमत में कटौती से लाभ होने की उम्मीद है। पिछले महीने, फार्मास्यूटिकल्स विभाग ने 1 अप्रैल से प्रभावी, 923 अनुसूचित दवा फॉर्मूलेशन के लिए अपनी वार्षिक संशोधित छत कीमतें और 65 फॉर्मूलेशन के लिए संशोधित खुदरा कीमतें जारी कीं।

बताते चले कि इस साल फरवरी में भी एनपीपीए ने डाइबिटीज और हाइपरटेंशन के इलाज में इस्तेमाल की जाने वाली 69 दवाओं के दाम कम किए थे। इसके अलावा 31 फॉर्मुलेशन वाली दवाओं की कीमतें भी निर्धारित की गई थीं। एनपीपीए सरकारी रेगुलेटरी एजेंसी है, जो फार्मास्युटिकल दवाओं की कीमतों पर नियंत्रण रखती है।

Share.

Leave A Reply