Date: 22/04/2024, Time:

धर्म छिपाकर शादी करने पहुंचा फर्जी इंस्पेक्टर गिरफ्तार

0

कुशीनगर 26 फरवरी। अहिरौली थाना क्षेत्र के एक गांव में लव जिहाद का सनसनीखेज मामला सामने आया है. पहले एक मुस्लिम युवक ने अपनी पहचान छिपाकर दलित युवती को अपने प्रेम जाल में फंसाया. घरवालों को जब दोनों के बारे में पता चला तो बात शादी तक पहुंची. शातिर युवक ने किसी अन्य को अपना पिता बनाकर युवती के घर भेज दिया. यहां तक कि शादी भी तय हो गई, लेकिन जयमाल के बाद कुछ ऐसा हुआ कि युवक की पहचान उजागर हो गई. इसके बाद पुलिस ने युवक के खिलाफ जांच शुरू कर दी है.

युवती को प्रेम जाल में फंसाने के लिए मुस्लिम युवक ने अपना नाम आर्यन प्रसाद बताया. यह भी कहा कि वह उत्तर प्रदेश पुलिस में इंस्पेक्टर है. दोनों में लंबे समय तक प्रेम प्रसंग चला. जब लड़की के पिता को इसकी जानकारी हुई तो युवक से बात की. उसने ने खुद को गोरखपुर का निवासी बताया और वर्तमान में बस्ती में पोस्टिंग की बात कही. लड़की के पिता ने जोर डाला तो युवक ने किसी को अपने पिता बनाकर लड़की के घर भेज दिया. इसके बाद शादी की बात भी तय हो गई. लड़की के पिता ने गोरखपुर जाकर लड़के का घर भी देखा, लेकिन उसे जरा भी एहसास नहीं हुआ कि धोखा दिया जा रहा है.

रविवार को शादी तय हुई थी. शादी की बारात आने का वक्त हुआ तो युवक ने कहा कि दहेज न मिलने के कारण उसकी मां की मौत सदमे में हो गई है, इसलिए शादी करने नहीं आ पाएगा. बारात वापस ले जा रहा है. युवती के पिता और परिजनों ने फोन पर बहुत रिक्वेस्ट तो तब युवक सजी हुई कार खुद ही चलाते हुए शादी करने पहुंचा. गाड़ी पर भी उत्तर प्रदेश पुलिस का लोगो लगा हुआ था. लड़की के घर जयमाल हुआ और मंडप में शादी की रस्में शुरू हुईं.

शादी की रस्म के दौरान युवक की ओर से लाए गए गहने देख घर की औरतों को शक हुआ. पता चला कि सभी गहने नकली हैं. इसके बाद हंगामा होने लगा. लड़के से जब थोड़ी सख्ती से पूछताछ हुई तो उसी दौरान उसके सिर का विग (नकली बाल) नीचे गिर गया. यह देख लड़की भी हैरान रह गई. घरवालों ने सख्ती से पूछा तो लड़के की पहचान कप्तानगंज थानाक्षेत्र स्थित नगर पंचायत माथौली निवासी तबरेज आलम के रूप में हुई. फर्जी नाम और धर्म बताकर शादी करने पहुंचने का मामला जंगल में आग की तरह फैला. सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने धर्म व पहचान छुपाकर शादी करने पहुंचे युवक को हिरासत में ले लिया.

दुल्हन ने बताया कि युवक खुद को पुलिस विभाग में इंसपेक्टर बताता और कहता कि मुझसे शादी कर लो क्योकि गाड़ी, पैसा सब है. मुझे दहेज नहीं चाहिए. घरवालों को बात पता चली तो वे भी मान गए. शादी के दिन दहेज की बात करने लगा. रिक्वेस्ट के बाद अकेले घर शादी करने आया.मेरे पिता ने मेरी शादी के लिए कर्ज लिया और तैयारी की, उसमें लाखों रुपये बर्बाद हो गए.

लड़की के पिता ने बताया कि तीन बेटे और तीन बेटियां हैं. एक को छोड़ सभी की शादी हो चुकी है. घर की अंतिम शादी थी इसलिए जमीन भी बेची. बेटी को दिया जाने वाला सारा सामान खरीदा और शादी के लिए घर 200 लोगों का खाना बनवाया मिठाइयां आईं, ताकि धूमधाम से शादी हो सके.

वहीं भाजपा नेता संजय सिंह मुन्ना को जब पूरे मामले की जानकारी हुई तो पीड़ित परिवार के पास पहुंचे. परिजनों से बात कर मीडिया के सामने सीएम योगी आदित्यनाथ से मांग किया कि इस तरह के लव जिहाद मानसिकता वाले लोगों पर सख्त कार्यवाही हो. उनके घरों पर बुलडोजर चलाया जाए.
पुलिस ने लड़की के पिता की तहरीर पर मामला पंजीकृत करते हुए जांच शुरू कर दी है.

Share.

Leave A Reply