Date: 30/05/2024, Time:

सपा विधायक इरफान सोलंकी के घर ईडी की रेड, सभी के मोबाइल जब्त, सीसीटीवी कराए बंद

0

कानपुर 07 मार्च। सूबे की महाराजगंज जेल में बंद कानपुर की सीसामऊ सीट से सपा विधायक इरफान सोलंकी के आवास पर गुरुवार की सुबह ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) का छापा पड़ गया. सुबह करीब 6 बजे लखनऊ नंबर की कई गाड़ियां जाजमऊ स्थित विधायक के आवास पर पहुंचीं. कारों से अफसर उतरे. उन्होंने अपना परिचय ईडी अफसर के रूप में दिया. इसके बाद अंदर दाखिल हो गए. बाहर काफी संख्या में फोर्स तैनात की गई है. टीम अंदर जांच कर रही है. बता दें कि विधायक इरफान सोलंकी पिछले एक साल से महाराजगंज जेल में बंद है. विधायक इरफान सोलंकी पर महिला का घर जलाने और फर्जी आधार कार्ड समेत कई मामले दर्ज हैं.

लखनऊ से करीब 6 गाड़ियों से पहुंची टीम विधायक के आवास पर दस्तावेज खंगाल रही है. विधायक के करोड़ों की कमाई से श्रोत की जानकारी जुटा रही है. सपा विधायक के आवास पर ईडी के छापे की जानकारी से शहरभर के सपाइयों में खलबली मची हुई है.
ईडी की एक टीम सपा विधायक के भाई सपा विधायक के भाई रिजवान सोलंकी के घर भी पहुंची. इरफान सोलंकी पर जो मामले दर्ज हैं. उनमें अधिकतर में उनके भाई रिजवान सोलंकी का भी नाम है. रिजवान सोलंकी पिछले कई माह से कानपुर जेल में बंद हैं. ईडी की छापेमारी उस वक्त हुई जब सपा विधायक के घर पर उनके परिवार का कोई सदस्य मौजूद नहीं था. सभी विधायक से मिलने महाराजगंज गए हैं. विधायक के आवास पर पहुंचते ही ईडी की टीम ने परिसर में लगे सभी सीसीटीवी बंद करवा दिए. टीम ने नौकरों और अन्य कर्मियों से पूछताछ की. उनके मोबाइल भी जब्त कर लिए. घर में अलमारियों को खंगाला. दस्तावेज की जांच की. कई इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों की जांच की.

बताते चले कि सपा विधायक इरफान सोलंकी पर कानपुर में जाजमऊ निवासी एक महिला ने अपने घर पर आगजनी का आरोप लगाकर मुकदमा दर्ज कराया था. पुलिस ने इस मामले की जांच की थी तो सपा विधायक की मौजूदगी घटनास्थल पर मिली. इसके अलावा बांग्लादेशी नागरिक को प्रमाण पत्र देने, फर्जी आधार कार्ड से यात्रा कराने आदि समेत कई मामलों में शहर के थानों में सपा विधायक के खिलाफ 10 से अधिक मुकदमे दर्ज किए गए थे.

मंगलवार की शाम को हुई सुनवाई के दौरान एमपी एमएलए कोर्ट ने सपा विधायक समेत उनके साथ अन्य सहयोगियों पर आरोप तय किए थे. सपा विधायक इरफान सोलंकी की ओर से अधिवक्ता ने यह भी कहा था कि वह अपना जवाब दाखिल करेंगे.
गौरतलब है कि महाराजगंज जेल में बंद समाजवादी पार्टी के विधायक इरफान सोलंकी की परेशानियां बढ़ती ही जा रही हैं. विधायक पर फर्जी आधार कार्ड मामले में आरोप तय किये गए हैं. कानपुर की एमपी-एमएलए लोअर कोर्ट ने विधायक और उनके दो साले समेत सात पर आरोप तय कर दिया. अब इस मामले में अगली सुनवाई 18 मार्च को होगी.

Share.

Leave A Reply