Date: 15/06/2024, Time:

कुणाल हत्याकांड में खुलासा: गाली देने पर मार डाला, फिर दो दिन तक कार में लेकर घूमते रहे लाश

0

ग्रेटर नोएडा 09 मई। ग्रेटर नोएडा के रेस्टोरेंट व्यापारी कृष्ण शर्मा के बेटे कुनाल की हत्या करने के बाद बदमाश शव को दो दिन तक कार की डिग्गी में लेकर घूमते रहे थे। इस दौरान बदमाश नोएडा भी गए थे। जांच में यह तथ्य भी प्रकाश में आया है कि महज गाली देने पर छात्र की हत्या कर दी गई। हालांकि दोनों पक्षों के बीच ब्याज के रूपयो को लेकर भी विवाद था।

घटना की साजिश रचने वाला आरोपी हिमांशु को पहलवान के नाम से मशहूर है. उसका और उसके करीबी कुनाल का कार बेचने का बिजनेस है. यही नहीं, उसे अलग-अलग कार चलाने का भी शौक है, उसकी दोस्ती कुणाल के पिता कृष्ण शर्मा से थी. दोनों के बीच रुपयों का लेन-देन अक्सर होता रहता था. इसी बीच एक दिन रेस्टोरेंट पर मौजूद व्यापारी के बेटे कुणाल से आरोपी की कहासुनी हो गई. छात्र कुणाल ने उसे गाली दे दी. यह बाद आरोपी हिमांशु बर्दाश्त नहीं कर पाया.

बदला लेने की नीयत से हिमांशु ने अपने दोस्त कुनाल और महिला मित्र के साथ मिलकर कुणाल के अपहरण और हत्या की साजिश रच डाली. महिला मित्र हरियाणा की रहने वाली है .पुलिस ने कहा कि जल्द ही उसे भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा. वहीं, हत्याकांड में उनका साथ होटल संचालक के रिश्तेदार मनोज भी दिया.

जांच में पता चला है कि कुणाल का अपहरण करने के बाद आरोपी उसे नोएडा के सेक्टर-126 स्थित होटल ले गए. वह विरोध न कर पाए इसलिए उसे नशे का इंजेक्शन देकर कार की डिग्गी में डाल दिया. बस इसी दौरान कुणाल की मौत हो गई. मौत के बाद आरोपियों ने उसके सिर पर वार करके बुलंदशहर की नहर में लाश को फेंक दिया.

बता दें, कुणाल हत्याकांड के तीन आरोपियों को मुठभेड़ में गिरफ्तार कर लिया गया है. बुधवार की रात बीटा-2 कोतवाली क्षेत्र में स्वाट टीम और नोएडा पुलिस के साथ आरोपियों की मुठभेड़ हो गई, जिसमें एक आरोपी कुनाल पुलिस की गोली लगने से घायल हो गया. कुणाल होटल संचालक का बेटा था. बीते एक मई को आरोपियों ने कुणाल का अपहरण किया था. पांच मई को उसका शव बुलंदशहर की गंगनहर से बरामद हुआ था.

Share.

Leave A Reply