Date: 18/07/2024, Time:

बस्ती में 15 लाख के नेपाली टूथपेस्ट को कस्टम ने पकड़ा

0

बस्ती 31 मई। भारत और नेपाल के बीच मैत्रीपूर्ण संबंध है. कुछ माफिया इसका फायदा उठाकर दोनों देशों के बॉर्डर से अवैध रूप से सामानों को तस्करी करते हैं. ऐसे ही एक तस्करी के मामले का खुलासा बस्ती पुलिस ने किया है. सोनहा थाने की पुलिस ने करीब 15 लाख की टूथपेस्ट के साथ चालक को पकड़ा है.

बस्ती के एसपी गोपाल कृष्ण चौधरी को मुखबिर से सूचना मिली कि कुछ तस्कर अवैध रूप से बस्ती, सिद्धार्थनगर के बॉर्डर पर गांव दुबौली के पास एक गोदाम में नेपाल की बने हुए टूथपेस्ट को गुपचुप तरीके से लोड कर रहे हैं. इसके बाद एसपी ने इस मामले में कार्रवाई के लिए तत्काल स्थानीय पुलिस को एक्टिव किया. गोदाम पर छापेमारी का निर्देश दिया. इसके बाद गोदाम पर लोड हो रही मकई की आड़ में नेपाल मेड टूथपेस्ट को सोनहा थाने की पुलिस ने रंगे हाथ पकड़ लिया.

डीसीएम को पुलिस थाने पर लेकर आ गई. पुलिस ने डीसीएम के ड्राइवर इंद्रजीत से सख्ती से पूछताछ की तो पता चला कि उसे सामान लोड करने के लिए फोन आया था. इसलिए वह दुबौली गांव पहुंचा. वहां मकई के साथ-साथ गोदाम पर एक पिकअप में कुछ गत्ते भी उतारकर डीसीएम में लाद दिए गए. उसे इस बात की कोई जानकारी नहीं थी कि गत्ते में क्या रखा है.

पुलिस ने डीसीएम में लोड सामानों को जांच की तो ड्राइवर कोई पेपर नहीं दिखा सका. इसके बाद पुलिस ने स्थानीय जीएसटी अफसरों से संपर्क किया. जीएसटी विभाग के अधिकारियों ने लोड सामानों के पेपर मांगे. ड्राइवर उन्हे कोई कागज नहीं दिखा सका. इसके बाद लखनऊ कस्टम विभाग के अधीक्षक आरजी राम भी मय टीम के साथ असनहरा चुकी पर पहुंचे और उन्हें कानूनी कार्रवाई करते हुए डीसीएम को कब्जे में लिया और उसे लखनऊ अपने साथ ले गए.

कस्टम अधिकारियों की आवक से हड़कम मच गया. अधीक्षक आरजी राम ने बताया, कि डीसीएम में नेपाल की बनी हुई टूथ पेस्ट 30 गत्तों में लोड है. इसका कोई पेपर उन्हे नहीं मिला है. इसकी कीमत लगभग 15 लाख से अधिक आंकी गई है.

Share.

Leave A Reply