Date: 30/05/2024, Time:

सनकी आशिक ने जेल से छूटते ही लड़की के बाप-भाई को मार डाला, फिर फ्रिज में रखे लाश के टुकड़े

0

जबलपुर 16 मार्च। मध्य प्रदेश के जबलपुर में हुए दोहरे हत्याकांड ने पूरे संस्कारधानी में सनसनी फैला दी है. यहां पड़ोस में रहने वाले एक युवक ने रेलवे कर्मचारी और उसके आठ वर्षीय बेटे की नृसंश हत्या कर डाली. फिर बच्चे के शव के टुकड़े किए और उन्हें फ्रिज और पेटी में छुपा दिए. वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी, मृतक की नाबालिग बेटी का अपहरण कर फरार हो गया. उसके बाद आरोपी ने मृतक की बेटी के मोबाइल से वॉइस मेसेज कर घटना की जानकारी उसके परिजनों को दी.
घटना जबलपुर के सिविल लाइन थाना क्षेत्र की मिलेनियम कॉलोनी की है. यहां एक बंद घर में पुलिस को दो लाश बरामद हुईं. एक लाश रेलवे में कार्यरत 52 वर्षीय राजकुमार विश्वकर्मा की है और दूसरी लाश उनके 8 साल के बेटे की है. बेटे की लाश को फ्रिज और पेटी में टुकड़े करके रख दिया गया था.

इस घटना की जानकारी जबलपुर पुलिस को मृतक राजकुमार विश्वकर्मा की भतीजी के मोबाइल से मिली जिस पर एक मैसेज आया था. यह मैसेज राजकुमार विश्वकर्मा की बेटी ने किया था. उसने मैसेज में लिखा था कि मुकुल सिंह ने मेरे पिता राजकुमार विश्वकर्मा और मेरे छोटे भाई की हत्या कर दी है और इन दोनों की लाश घर में पड़ी हुई है. इस मैसेज के मिलने के बाद उनके भाई जबलपुर पहुंचे उन्होंने जबलपुर पुलिस को इसकी जानकारी दी. जबलपुर पुलिस मौके पर पहुंची और बंद घर को जब खोला गया तो यहां पिता-पुत्र की लाश बरामद हुई.

इस मामले में जबलपुर एसपी ने चौंकाने वाला खुलासा किया है. जबलपुर पुलिस अधीक्षक आदित्य कुमार सिंह ने बताया कि इस घटना में जिस मुकुल सिंह का नाम आया है वह पहले भी इस लड़की को परेशान कर चुका था और पॉक्सो एक्ट के तहत उसे सजा भी हुई थी. वह जेल से छूटा था, जिसके बाद उसने इस घटना को अंजाम दिया.

पुलिस के मुताबिक फिलहाल माना जा रहा कि पीड़ित लड़की मुकुल सिंह के पास है. अनुमान लगाया जा रहा है कि इस कातिल ने उस मासूम को अगवा कर लिया है. पुलिस इस मामले में लड़की को सही सलामत बरामद करने की कोशिश कर रही है और घटना की फॉरेंसिक जांच शुरू कर दी गई है. फिलहाल पोस्टमॉर्टम के बाद पता चल सकेगा कि दोनों की हत्या कितने दिन पहले की गई है.

Share.

Leave A Reply