Date: 28/02/2024, Time:

पीएम मोदी जी को चौधरी साहब आदि को भारत रत्न देने के लिए बधाई तथा जयंत चौधरी के उज्जवल भविष्य की शुभकामनाए

0

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी आस्मिक रूप से महत्वपूर्ण मुद्दों पर निर्णय लेने के लिए हमेशा ही चर्चाओं में रहे है लेकिन भारत रत्न देने के संदर्भ में उन्होंने बाकई में कमाल कर दिया। पहले पूर्व उपप्रधानमंत्री श्री लालकृष्ण आडवाणी और अब जन नायक पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह पीवी नरसिम्हाराव एवं स्वामी एमएस स्वामीनाथन को भारत रत्न सम्मान देने की सोशल मीडिया ट्वीट पर घोषणा कर सभी को चौका दिया। फिलहाल बात करे मजदूर किसान और मजलूमों के सर्वमाननीय नेता अपने समय में रहे चौ0 चरण सिंह जी को भारत रत्न दिये जाने की तो ये मांग देश का किसान मजदूर और खुली सोच रखने वाला हर व्यक्ति जो पिछले कई दशक से कर रहा था। पीएम मोदी ने उन्हें भारत रत्न देने की घोषणा कर आम आदमी का दिल जीत लियाहै। इस बात में दो राय नहीं है।
हम सभी लोग जयंत चौधरी के भाजपा से गठजोड़ को लेकर हमेशा चर्चा करते रहे कि उन्हें सपा नहीं छोड़नी चाहिए क्योंकि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उन्हें बहुत कुछ बीते यूपी चुनाव के बाद दिया लेकिन चौधरी साहब को भारत रत्न मिलने के बाद यह कहा जा सकता है कि रालोद मुखिया ने कोई गलत निर्णय भाजपा से मिलने का नहीं लेने जा रहा है। और भविष्य में वो अब साकार होते भी देर नहीं लगेगी।
जब जयंत चौधरी राजनीति में आये और मथुरा से लोकसभा का चुनाव लड़ा और जीते तो वरिष्ठ पत्रकार रवि कुमार बिश्नोई ने लिखा था कि हर सांसद इतना ईमानदार हो जाए तो देश में राम राज आते देर नहीं लगेगी। लोग कहा करते थे कि जयंत चौधरी में अपने दादा स्वर्गीय प्रधानमंत्री चरण सिंह जी की छवि नजर आती है और वो कामयाब राजनेता सिद्ध हो सकते है। राजनीति में कब क्या हो जाए और कौन किसके साथ चला जाए पिछले कुछ दशक में मजबूत हुई इस धारणा के चलते अब अगर रालोद अध्यक्ष भाजपा से गठबंधन करते है तो देश का किसान और मजदूर उन्हें अगले लोकसभा चुनाव में निराश नहीं करेगा। मौखिक चर्चा है कि एनडीए में शामिल होने के लिए उन्हें बिजनौर और बागपत की सीटे मिल सकती है। और उनकी धर्मपत्नी जो रालोद की मजबूती के लिए निरंतर कार्य करती रही है चारू चौधरी को राज्यसभा में एनडीए नेता भेज सकते है। इस बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता कि पीएम मोदी जैसे सरल स्वभाव के मानवीय संवेदनाओं से परिपूर्ण और हमेशा अपनो को साथ लेकर चलने में विश्वास रखने के तहत मोदी जी उन्हें एक सीट कैराना आदि की भी दे सकते है। कुल मिलाकर ग्रामीण कहावत आम के आम और गुटलियों के दाम बनाने में रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी पूरी तौर पर सफल रहे क्योंकि कोई कह कुछ भी कह ले चौधरी साहब को भारत रत्न दिये जाने की घोषणा के पीछे 2024 के लोकसभा चुनाव में जयंत चौधरी की भूमिका महत्वपूर्ण है। बाकई में अब ये लग रहा है कि रालोद मुखिया बड़े चौधरी साहब की तरह ही सोचते और काम करते है।
एक बार पीएम मोदी जी को चौधरी साहब आदि को भारत रत्न देने के लिए बधाई तथा जयंत चौधरी के उज्जवल भविष्य की शुभकामनाऐं। (प्रस्तुतिः अंकित बिश्नोई सोशल मीडिया एसोसिएशन एमएमए के राष्ट्रीय महामंत्री मजीठिया बोर्ड यूपी के पूर्व सदस्य संपादक व पत्रकार)

Share.

Leave A Reply