Date: 30/05/2024, Time:

बिजनेसमैन के बेटे का अपहरण कर दोस्तों ने मांगी 6 करोड़ फिरौती, रुपये न मिलने पर की हत्या

0

अमरोहा 29 फरवरी। उत्तर प्रदेश के जनपद अमरोहा के गजरौला के रहने वाले इलेक्ट्रॉनिक्स उत्पादों के बड़े कारोबारी के बेटे की हत्या कर दी गयी. किडनैपर्स ने उनके 20 वर्षीय इकलौते बेटे का अपहरण करके 6 करोड़ रुपये की फिरौती मांगी थी. फिरौती की रकम न मिलने पर बिजनेसमैन के बेटे की हत्या कर दी गयी. उसका शव गजरौला स्थिति तेवा फैक्ट्री के जंगलों में 4 फीट गहरे गड्ढे में दफना दिया. इस मामले में नोएडा पुलिस ने बेटे के तीन दोस्तों को हिरासत में लिया. उनसे पूछताछ के बाद कारोबारी के बेटे का शव बरामद कर लिया गया.

अमरोहा के गजरौला शहर के रहने वाले प्रदीप मित्तल बड़े कारोबारी है. उनका 20 वर्ष का इकलौता बेटा यश मित्तल नोएडा की बीएएमटी यूनिवर्सिटी में बीबीए फर्स्ट ईयर का स्टूडेंट था. वह 26 फरवरी को हॉस्टल से बाहर गया हुआ था. वह वापस नहीं लौटा. इसके बाद अपहरणकर्ताओं का मैसेज यश के फोन से पिता के पास आया. उन्होंने प्रदीप मित्तल से 6 करोड़ रुपये की फिरौती मांगी.

प्रदीप मित्तल ने मामले की जानकारी दादरी थाने में लिखित तहरीर के माध्यम से दी. इसके बाद नोएडा पुलिस उनके बेटे को तलाश करने लगी. छह करोड़ रुपय की फिरौती न मिलने पर यश के दोस्तों ने उसकी पीट-पीटकर हत्या कर दी. हत्या के बाद शव को गहरे गड्ढे में दबा दिया. फिरौती मांगने वाले की मोबाइल फोन की लोकेशन के आधार पर नोएडा की पुलिस ने तीन दोस्तों को हिरासत में लिया.

उनकी निशानदेही पर यश का शव बरामद कर लिया गया. आरोपी दोस्त यश के मोबाइल से ही उसके पिता और बहन को फिरौती की रकम के लिए मैसेज और फाेन कर रहे थे. पुलिस ने यश के माेबाइल की लोकेशन ट्रेस की. इसके आधार पर गजरौला के तिगरिया भूड़ मोहल्ले में छापा मारा और उसके एक दोस्त को हिरासत में ले लिया. इसके बाद दो और दोस्तों को भी हिरासत में लिया गया.

आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने मंडी धनौरा मार्ग पर तेवा कंपनी के सामने गहरे गड्ढे को खोदकर यश का शव बरामद किया. शव को देखकर ऐसा लग रहा था कि जैसे कई लोगों ने मिलकर उसको बेरहमी से पीटा था. इसके बाद उसकी गला दबाकर हत्या कर दी गयी. यश के शरीर पर नील के कई निशान थे. इसके अलावा मुंह और नाक से खून भी निकल रहा था.

Share.

Leave A Reply