Date: 15/06/2024, Time:

व्यापारी के बेट का अपहरण के बाद हत्या, नहर में मिली लाश

0

नोएडा 06 मई। ग्रेटर नोएडा में चार दिन पहले एक नाबालिक लड़के के अपहरण का मामला सामने आया था. आज उसे ढूंढने के क्रम में पुलिस को उसकी लाश मिली है. उसकी लाश बुलंदशहर के एक नहर से बरामद की गई है. पिछले चार दिनों से पुलिस की 10 टीमें इस बच्चे की तालाश में लगी हुई थी. ये बच्चा नोएडा के एक होटल कारोबारी का बेटा है. चार दिन पहले इस 15 साल बच्चे को उसके होटल से ही अगवा किया गया था. इस अपहरण की वारदात का वीडियो सीसीटीवी में कैद है. फिलहाल पलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. साथ ही आगे की जांच में लगी हुई है.

ग्रेटर नोएडा से 1 मई की दोपहर को एक रेस्टोरेंट मालिक कृष्‍ण कुमार के बेटे का अपहरण कर लिया गया था। सीसीटीवी फुटेज में कुछ लोग को उसे जबरन कार में ले जाते हुए देखा गया था। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि अपहरण के दौरान, एक महिला ने लड़के कुणाल को एक तरफ से कवर किया। वहीं, दो अन्य लोगों ने उसे दूसरी तरफ से कार में धकेल दिया। प्राथमिकी में आईपीसी की धारा 302 (हत्या) जोड़ दी गई है। आरोपियों तक पहुंचने और उन्हें पकड़ने के लिए टीमों का गठन किया गया है। सीसीटीवी कैमरे भी खंगाले जा रहे हैं।

मूल रूप से रबूपुरा के गांव म्याना के रहने वाले कृष्ण शर्मा शिवा होटल के नाम से रेस्तरां चलाते है। कृष्ण किसान संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष भी है। बुधवार यानी एक मई को उनके रेस्तरां के सामने से बेटे कुनाल का अपहरण कर लिया गया। कुनाल आठवीं कक्षा का छात्र था। अपहरण के बाद उसकी हत्या कर दी गई। रविवार को उसका शव मिलने के बाद ग्रामीणों ने बुलंदशहर के चोला मार्ग पर दो घंटे तक जाम लगा दिया।

स्वजन ने आरोप लगाया कि है पुलिस ने उनको धमकाया कि इंटरनेट मीडिया पर बयानबाजी न करें। किसान संगठन की गीता भाटी ने आरोप लगाया है कि छात्र की जान पुलिस की लापरवाही से गई है। पुलिस शुरू से ही मामले को अपहरण मानने को तैयार नहीं थी। पुलिस शुरू से कहती रही कि छात्र अपनी मर्जी से गया था। अब उसकी हत्या होने के बाद पुलिस के पास कोई जवाब नहीं है। आशंका है कि रंजिश में अपहरण के बाद हत्याकांड को अंजाम दिया गया है। हालांकि पुलिस अभी तक मामले का पर्दाफाश नहीं कर पाई है।

कुनाल के पिता कृष्ण शर्मा ने कहा है कि पुलिस की लापरवाही से बेटे की जान गई। पुलिस का नाश हो। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि अपहरणकांड के बाद पुलिस उनके ही स्वजन को हिरासत में रख डंडे से पट्टे से पीटा। बाद में खुद को घिरता देख स्वजन को घायल अवस्था में उनके ही सुपुर्द कर दिया। एक स्वजन की हालत गंभीर है, वह अस्पताल में भर्ती है।

सूत्रों का कहना है कि जिस कार से कुणाल को बैठाकर ले जाया गया उस पर नंबर प्‍लेट किसी बाइक का लगा था। जॉइंट पुलिस कमिशनर शिवहरि मीणा ने बताा कि कुणाल का शव बुलंदशहर की नहर से मिला है। जांच की जा रही है। जल्‍द ही आरोपी पकड़े जाएंगे।

Share.

Leave A Reply