Date: 30/05/2024, Time:

भाजपा को 720 करोड़ का चंदा, 4 नेशनल पार्टियों को मिले चंदे का 5 गुना, 850 करोड़ में कांग्रेस को सिर्फ 80 करोड़ मिले

0

नई दिल्ली, 15 फरवरी। एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) ने राजनीतिक दलों को मिलने वाले डोनेशन की रिपोर्ट जारी की है। इसके मुताबिक, फाइनेंशियल ईयर 2022-23 में भाजपा को लगभग 720 करोड़ रुपए डोनेशन मिले हैं। भाजपा को मिली रकम कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (मार्क्सवादी) और नेशनल पीपुल्स पार्टी को मिले डोनेशन से पांच गुना अधिक है। फाइनेंशियल ईयर में 20 हजार से अधिक का डोनेशन मिलने पर रजिस्टर्ड पॉलिटिकल पार्टियों को खुलासा करना होता है। 2022-23 में नेशनल पार्टियों को कुल 850.43 करोड़ रुपए डोनेशन में मिले हैं। एडीआर के मुताबिक, कुल डोनेशन में कांग्रेस ने सिर्फ 79.92 करोड़ रुपए मिलने की घोषणा की है। कुल 12 हजार 167 डोनेशन में भाजपा को 7,945 और कांग्रेस को 894 डोनेशन से ये रकम हासिल हुई है। देश की छठी राष्ट्रीय पार्टी बहुजन समाज पार्टी ने घोषणा की है कि उसे 2022-23 के दौरान 20 हजार रुपए से अधिक का कोई चंदा नहीं मिला। बीते 17 साल से बीएसपी यही घोषणा करती आ रही है।

चार पार्टियों के कुल चंदे का पांच गुना अकेले बीजेपी को
एडीआर रिपोर्ट के मुताबिक, बीजेपी को 7,945 डोनेशन मिले हैं जिसकी रकम 719.08 करोड़ रुपये रही. वहीं कांग्रेस पार्टी ने 894 डोनेशन में 79.92 करोड़ रुपये मिलने का ऐलान किया. बीजेपी को मिला चंदा इसी अवधि में कंग्रेस, आम आदमी पार्टी, नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) और सीपीआई (एम) को मिले कुल चंदे से पांच गुना ज्यादा है. एनपीपी पूर्वोत्तर की एकमात्र राजनीतिक पार्टी है जिसे राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा हासिल है.

किस राज्य से, कितना चंदा मिला?
एडीआर ने यह भी बताया कि दिल्ली से राष्ट्रीय पार्टियों को कुल 276.202 करोड़ रुपये का चंदा मिला, इसके बाद गुजरात से 160.509 करोड़ रुपये और महाराष्ट्र से 96.273 करोड़ रुपये का चंदा मिला. वित्त वर्ष 2022-23 के दौरान राष्ट्रीय पार्टियों का कुल चंदा 91.701 करोड़ रुपये बढ़ा है, जो पिछले वित्त वर्ष 2021-22 से 12.09 फीसदी ज्यादा है.

रिपोर्ट के मुताबिक, 2021-22 के दौरान बीजेपी को 614.626 करोड़ रुपये का चंदा मिला था जो 2022-23 में बढ़कर 719.858 करोड़ रुपये हो गया, जो कि पिछले वित्त वर्ष मे मिले चंदे की तुलना में 17.12 फीसदी ज्यादा है. हालांकि, वित्त वर्ष 2019-20 की तुलना में वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान पार्टियों को मिले चंदे में 41.49 प्रतिशत की कमी देखी गई है.

कांग्रेस को मिले चंदे में गिरावट
वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान कांग्रेस पार्टी ने जहां 95.459 करोड़ रुपये का चंदा हासिल किया था, वो 2022-23 के दौरान गिरकर 79.9 करोड़ पर आ गया है. पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में, सीपीआई (एम) को मिले चंदे में 39.56 फीसदी (3.978 करोड़ रुपये) और आप के लिए 2.99 फीसदी या 1.143 करोड़ रुपये की कमी देखी गई है.

Share.

Leave A Reply