Date: 18/06/2024, Time:

महज 30 रुपये का टिकट खरीद कर रातोंरात करोड़पति बना राजमिस्त्री

0

रानीगंज 06 फरवरी। पेशे से वह राजमिस्त्री है. बड़ी मुश्किल से घर का खर्च चलता है, लेकिन लॉटरी का शौक ऐसा कि वह एक टाइम का खाना छोड़ कर टिकट खरीद लेता था. यहां तक कि इसी लॉटरी के लिए आए दिन घर में पत्नी से झगड़े भी होने लगे थे. अब यह बातें पुरानी हो चुकी है. उसकी लॉटरी लग चुकी है और महज 30 रुपये के खर्चे में वह करोड़पति बन गया है. आए दिन झगड़ने वाली पत्नी भी उसे प्यार से हलवा पूड़ी खिला रही है. कहा कि उसे खुद भरोसा नहीं हो रहा है कि उसके पति अब करोड़पति हैं और वह अमीर हो चुकी है.

मुर्शीदाबाद पश्चिम बंगाल के रानीगंज में रहने वाले राजमिस्त्री सुखचंद कहते हैं कि लॉटरी के टिकट खरीदना उनका शौक ही नहीं जुनून भी है. हालांकि इसके चलते उनके घर में कई तरह की परेशानियां भी खड़ी हो चुकी है. आर्थिक परेशानी के साथ घर में आए दिन कलह भी हो रहा था. बावजूद इसके वह बिना नागा किए लॉटरी के टिकट खरीदता रहा. बल्कि वह अपने जुनून को पूरा करने के लिए कई बार खाना भी नहीं खाया.आज वही जुनून उसके लिए लकी साबित हुआ है. आज सुकचंद करोड़पति बन गया है.

सुकचंद के मुताबिक वह डॉक्टर को दिखाने के लिए ट्रेन से कोलकाता जा रहा था. इसी बीच उसे फोन आया, बताया गया है कि उसकी लॉटरी लग चुकी है. इस लॉटरी की कीमत एक करोड़ है. यह सुनते ही सुकचंद अगले स्टेशन पर उतर गया और वापसी की ट्रेन से घर वापस आ गया. उसने बताया कि महज 30 रुपये में उसने लॉटरी टिकट खरीदे थे और उसी लॉटरी टिकट की बदौलत आज वह करोड़पति बन गया है.अमीर बनने के बाद उसने सुरक्षा कारणों से सोमवार को पुलिस स्टेशन भी पहुंचा और पूरे मामले की जानकारी दी.

सुकचंद के मुताबिक उसे खुद विश्वास नहीं हो रहा है कि अब उसके पास एक करोड़ रुपये हैं. वहीं सुकचंद की पत्नी ने बताया कि लॉटरी उसके पति का शौक था. वह जब से ब्याह कर आई, उसने कभी भी पति का दिवानापन अपने प्रति नहीं देखा. हमेशा उसने पति के पहले प्यार के रूप में लॉटरी को ही पाया है. उसे भरोसा नहीं हो रहा है कि लॉटरी जीत कर उसके पति करोड़पति बन गए हैं. वह अब अमीर हो चुकी है.

Share.

Leave A Reply