Date: 28/02/2024, Time:

नैनीताल के होटल की 50 प्रतिशत बुकिंग निरस्त

0

नैनीताल 12 फरवरी। हल्द्वानी में बवाल के बाद लगे कर्फ्यू ने सरोवर नगरी के पर्यटन कारोबार पर गहरा असर डाला है। वीकेंड पर गुलज़ार रहने वाले पर्यटन स्थल इस हफ्ते शनिवार और रविवार को सुनसान नजर आए। होटलों में करीब 50 प्रतिशत एडवांस बुकिंग निरस्त हुई हैं।
हालांकि, रविवार से हल्द्वानी में कर्फ्यू में ढील दी गई थी, मगर नैनीताल में पर्यटकों की संख्या बेहद कम रही। बर्फबारी नहीं होने से जनवरी में सैलानियों की आमद वैसे ही घटी है। फरवरी में इसकी भरपाई की उम्मीद जताई जा रही थी।

पर्यटन कारोबारियों के लिए वीकेंड सबसे बेहतर रहता है, लेकिन इस सप्ताह गुरुवार रात से हल्द्वानी में लगे कर्फ्यू लगने से यहां का पर्यटन भी धड़ाम हो गया। तभी से नगर के अधिकांश होटलों में एडवांस बुकिंग रद होने लगी थी। रविवार को डे विजिट पर आने वाले सैलानियों की संख्या कम रही। पर्यटन कारोबारी निराश दिखे। समीपवर्ती पर्यटन स्थल पंगोट, खुर्पाताल, कैंचीधाम, सातताल, रामगढ़ व मुक्तेश्वर में भी अमूमन नैनीताल जैसी स्थिति रही। नगर के पर्यटन स्थल स्नो व्यू, राजभवन, चिड़ियाघर, केव गार्डन, हिमालय दर्शन व हनुमानगढ़ी में सन्नाटा रहा।

नैनीताल होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के महासचिव वेद साह के अनुसार इस वीकेंड पर बहुत कम संख्या में सैलानी पहुंचे। एडवांस बुकिंग 50 प्रतिशत प्रभावित हुई है। दिल्ली एनसीआर, लखनऊ, कानपुर, बरेली व आगरा आदि शहरों से सैलानी हल्द्वानी में लगे कर्फ्यू के हालात जानने के लिए फोन पर जानकारी तो ले रहे हैं, लेकिन नैनीताल आने से कतरा रहे हैं।

बताते चले कि उत्तराखंड से बाहर के सैलानी होटल कारोबारियों से हिंसा और कर्फ्यू का अपटेड भी ले रहे हैं। शुक्रवार को शहर और यहां के पिकनिक स्पाटों में सैलानियों की आवाजाही कम रही। ऐसे में इस सप्ताहांत (शनिवार व रविवार) के साथ-साथ वैलेंटाइन वीक का पर्यटक सीजन प्रभावित होने के आसार हैं। पर्यटन कारोबारियों का कहना है कि अब नहीं लगता कि सप्ताहांत और वैलेंटाइन के मौके पर सैलानी नैनीताल पहुंचेंगे।

Share.

Leave A Reply