Date: 15/06/2024, Time:

RO और ARO पेपर लीक मामले में मास्टरमाइंड समेत 4 और आरोपी गिरफ्तार

0

लखनऊ 22 अप्रैल। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग समीक्षा अधिकारी (आरओ)/सहायक समीक्षा अधिकारी (एआरओ) की प्रारंभिक परीक्षा-2023 को पेपर लीक के बाद रद्द कर दिया था. अब RO-ARO पेपर लीक मामले में यूपी एसटीएफ को बड़ी कामयाबी मिली है. यूपी के कौशांबी जिले में पुलिस भर्ती परीक्षा, RO/ARO परीक्षा पेपर लीक मामले में यूपी STF ने 4 शातिर युवकों को गिरफ्तार किया है.

STF द्वारा जारी बयान के मुताबिक, पकड़े गए लोगों के पास से एक प्रश्नपत्र, 2.02 लाख रुपये से अधिक की नकदी, नौ मोबाइल फोन, दो आधार कार्ड और दो कार बरामद की गई हैं। STF ने सभी आरोपियों को मंझनपुर कोतवाली पुलिस को सौंप दिया, मंझनपुर कोतवाली पुलिस ने चारों आरोपियों को लिखा पढ़ी कर न्यायालय पेश किया जहां से सभी को जेल भेज दिया गया. गिरफ्तार अभियुक्तों के खिलाफ पुलिस ने धारा 420, 467, 468, 471, 34, 201 के तहत थाना मंझनपुर जिला कौशांबी में केस दर्ज किया है.

यूपी एसटीएफ ने चारों आरोपियों को लखनऊ पब्लिक स्कूल वृन्दावन योजना के पास स्थित कालिन्दी पार्क के सामने से 20 अप्रैल को शाम 6.30 बजे गिरफ्तार किया है.गिरफ्तार किए गए लोगों की पहचान लखनऊ निवासी शरद सिंह पटेल और अभिषेक शुक्ला, प्रयागराज के रहने वाले कमलेश कुमार पाल और अर्पित विनीत के रूप में हुई है।

आरोपी शरद सिंह पटेल जो पूर्व में वीडीओ परीक्षा-2019 में वाराणसी पुलिस द्वारा जेल भेजा जा चुका है. उसने बताया कि सौरभ शुक्ला (प्रबन्धक, जीडी मेमोरियल पब्लिक स्कूल पारा लखनऊ) के साथ मिलकर आरओ/एआरओ परीक्षा 2023 का पेपर परीक्षा केन्द्र से आउट कराने की योजना बनाई थी. वहीं आरोपी अर्पित विनीत यषवंत ने कमलेश कुमार पाल उर्फ केके से 5 लाख रुपये में पेपर आउट कराना तय किया था. इसके बाद 1 लाख रूपये परीक्षा से पूर्व एडवांस प्राप्त किया, शेष पैसे काम होने के बाद देना तय हुआ था.

Share.

Leave A Reply