टीम इंडिया ने जीती 14वीं टेस्ट सीरीज, न्यूजीलैंड को 372 रन से हराया

0
99

नई दिल्ली. भारत ने सोमवार को यहां दूसरे और अंतिम टेस्ट क्रिकेट मैच के चौथे दिन न्यूजीलैंड को 372 रन से करारी शिकस्त देकर दो मैचों की सीरीज 1-0 से जीती. न्यूजीलैंड की टीम 540 रन के मुश्किल लक्ष्य का पीछा करते हुए अपनी दूसरी पारी में 167 रन पर आउट हो गई. भारत ने अपनी पहली पारी में 325 रन बनाए थे, जिसके जवाब में न्यूजीलैंड की टीम 62 रन पर सिमट गई थी. भारत ने अपनी दूसरी पारी सात विकेट पर 276 रन पर समाप्त घोषित की थी. दोनों टीम के बीच कानपुर में खेला गया पहला टेस्ट मैच ड्रॉ छूटा था. यह भारतीय क्रिकेट टीम की घर में लगातार 14वीं टेस्ट सीरीज जीत है. वहीं, साथ ही यह टेस्ट क्रिकेट में भारत की सबसे बड़ी जीत है. इससे पहले 337 रन की थी, जो 2015 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आई थी.

मैच का चौथा दिन रहा जयंत यादव के नाम
भारत बनाम न्यूजीलैंड मुंबई टेस्ट मैच का चौथा दिन जयंत यादव के नाम रहा. उन्होंने मैच के चौथे दिन भारत को चार सफलताएं दिलाई. एक सफलता रविचंद्रन अश्विन ने दिलाई. चौथे दिन भारत को जीत के लिए 5 विकेट की जरूरत थी. जयंत यादव ने विल समरविले, काइल जेमिसन, टिम साउदी और रचिन रवींद्र को पवेलियन की राह दिखाई. जयंत की इस शानदार गेंदबाजी के दम पर भारत ने चौथे दिन पहला सेशन खत्म होने से काफी पहले ही न्यूजीलैंड पर जीत हासिल कर ली.

चौथे दिन का खेल शुरू होने के एक घंटे के भीतर जीती टीम इंडिया
दिन का खेल शुरू होने के ठीक 43 मिनट बाद भारत ने 540 रन के मुश्किल लक्ष्य का पीछा कर रही न्यूजीलैंड की टीम को 56.3 ओवर में 167 रन पर आउट कर दिया. रविचंद्रन अश्विन (34 रन देकर चार विकेट) ने हेनरी निकोल्स को ऋद्धिमान साहा के हाथों कैच कराकर भारत में अपना 300वां टेस्ट विकेट लेकर न्यूजीलैंड की पारी का अंत किया. कानपुर में अपने जज्बे का शानदार प्रदर्शन करके पहला टेस्ट मैच ड्रॉ कराने वाली न्यूजीलैंड की टीम मुंबई में संघर्ष नहीं कर पाई. अतिरिक्त उछाल और टर्न के सामने उसके बल्लेबाजों ने आसानी से घुटने टेक दिए. न्यूजीलैंड हालांकि इस मैच को ऐजाज पटेल के पारी में 10 विकेट के ऐतिहासिक कारनामे के लिए याद रखेगा.

पहली पारी में 325 और दूसरी पारी में भारत ने बनाए 276 रन
भारत ने न्यूजीलैंड (IND vs NZ) के सामने 540 रन का विशाल लक्ष्य रखने के बाद तीसरे दिन उसके पांच विकेट चटकाकर दूसरे और अंतिम टेस्ट क्रिकेट मैच में रविवार को यहां बड़ी जीत की तरफ कदम बढ़ा दिए थे. न्यूजीलैंड ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक अपनी दूसरी पारी में पांच विकेट पर 140 रन बनाए थे. अपनी पहली पारी में 325 रन बनाने वाले भारत ने अपनी दूसरी पारी सात विकेट पर 276 रन पर समाप्त घोषित की. न्यूजीलैंड की टीम पहली पारी में केवल 62 रन पर आउट हो गई थी.

भारत ने दिखाई आक्रामक बल्लेबाजी
इससे पहले भारत ने आक्रामक अंदाज में बल्लेबाजी की. उसकी तरफ से दूसरी पारी में सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल (108 गेंदों पर 62), चेतेश्वर पुजारा (97 गेंदों पर 47), शुभमन गिल (75 गेंदों पर 47), अक्षर पटेल (26 गेंदों पर नाबाद 41) और कप्तान विराट कोहली (84 गेंदों पर 36) ने उपयोगी योगदान दिया. न्यूजीलैंड की तरफ से पहली पारी में 119 रन देकर सभी 10 विकेट लेने वाले स्पिनर ऐजाज पटेल ने दूसरी पारी में 106 रन देकर चार जबकि रचिन रविंद्र ने 56 रन देकर तीन विकेट लिए. पटेल ने इस तरह से मैच में 225 रन देकर 14 विकेट लिए. यह भारत के खिलाफ किसी गेंदबाज का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है.

ऋद्धिमान साहा को छोड़ सभी बल्लेबाजों ने जड़े छक्के
एजाज पटेल के 10 विकेट के कारनामे के बावजूद न्यूजीलैंड के गेंदबाजों का आत्मविश्वास डगमगाया हुआ था. भारत की तरफ से 70 ओवर में 25 चौके और 11 छक्के लगे. आलम यह था कि ऋद्धिमान साहा (13) को छोड़कर भारत के प्रत्येक बल्लेबाज ने छक्का जड़ा. अकेले अक्षर पटेल ने अपनी तूफानी पारी में तीन चौके और चार छक्के लगाये. श्रेयस अय्यर ने आठ गेंदों पर 14 रन की अपनी पारी में दो छक्के जड़े.

भारत ने न्यूजीलैंड को पहली पारी में किया 28 रन पर आउट
भारत ने न्यूजीलैंड को पहली पारी में केवल 28 ओवर में आउट कर दिया था, लेकिन कप्तान कोहली स्वयं को और उन बल्लेबाजों को मौका देना चाहते थे जो फॉर्म में नहीं थे और इसलिए उन्होंने कीवी टीम को फॉलोआन नहीं दिया. पुजारा ने इसका कुछ फायदा उठाया. उन्होंने अग्रवाल के साथ पहले विकेट के लिए 107 रन की साझेदारी करके टीम को अच्छी शुरुआत दिलायी. पहली पारी में 150 रन बनाने वाले अग्रवाल ने फिर से दर्शनीय अर्धशतकीय पारी खेली.

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments