एंबुलेंस के नीचे फेंकी नवजात बच्ची, शरीर पर लग गई थीं चीटियां, इलाज जारी

0
33

मुरैना. मुरैना जिला अस्पताल में हाल ही में जन्मी एक नवजात बच्ची को फेंकने का मामला सामने आया है. बच्ची को कोई महिला एंबुलेंस के नीचे रख गई थी. यहां तक की बच्ची के पेट से नाल तक नहीं हटी थी. सुबह स्वास्थ्य कर्मचारी की नजर उस पर पड़ी तो उसने तुरंत बच्ची को उठाया और वह उसे लेकर इमरजेंसी वार्ड में भर्ती करने ले गया. अब, अस्पताल प्रशासन सीसीटीवी कैमरे के फुटेज खंगाल रहा है. जिससे फेंकने वाली महिला या पुरुष का पता लग सके.
आपको बता दें कि रात में किसी महिला की डिलीवरी हुई, उसने बच्ची को जन्म दिया. बदनामी से बचने या किसी अन्य कारण से उसने बच्ची को अस्पताल के बाहर खड़ी एंबुलेस के नीचे रख दिया. बच्ची के नाल तक नहीं काटी गई थी.

डॉक्टरों ने तुरंत इमरजेंसी में कराया भर्ती
जैसे ही अस्पताल के डॉक्टरों को नवजात के पड़े होने की सूचना मिली. डॉक्टर वहां आए और उन्होंने बच्ची को तुरंत इमरजेंसी में भर्ती करा दिया. बच्ची अब जिंदगी और मौत से लड़ रही है.

सीसीटीवी कैमरे की तलाशी
नवजात को कौन रख गया इसकी जानकारी के लिए पुलिस अस्पताल प्रशासन की मदद से अस्पताल के सीसीटीवी कैमरे खंगाल रहा है. सीसीटीवी कैमरे के आधार पर रखने वाली की पहचान की जाएगी.

चीटियां चिपक गई थी
बच्ची के शरीर में चीटियां लग गईं थी. क्योंकि रात भर बच्ची खुले में ही पड़ी थी. उसमें इतनी ताकत भी नहीं थी कि रो सके. डॉक्टरों ने चिटियां हटाईं व उसका इलाज किया.

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments