मेरठ की मास्‍टर शेफ बता रहीं कैसेे बनाए पंजाबी रसोई वाला सरसों का साग और मक्की की रोटी

34
loading...

मेरठ। सर्दियों में सरसों का साग और मक्की की रोटी खाना आखिर किसे पसंद नहीं होगा। यह जितना स्वादिष्ट होता है, उतना ही सेहत से भरपूर भी है। लेकिन महिलाओं को अक्सर यह शिकायत रहती है कि मक्की रोटी बनाने में काफी परेशानी होती है। इसलिए वह इसका स्वाद नहीं ले पाती है। यदि सरसों का साग और मक्की की रोटी बन भी जाए तो वैसा स्वाद नहीं मिलता है, जैसा की दादी नानी के हाथ में हुआ करता था। सर्दी के मौसम में सरसों का साग और मक्की रोटी बनाने आसान और परफेक्ट तरीका बता रही हैं मास्टर शेफ निशा वर्मा।

साग बनाने की सामग्री
750 ग्राम सरसों का साग, 250 ग्राम पालक का साग, 250 ग्राम बथुए का साग, दो कप पानी, नमक स्वादानुसार, आटा कप मक्की का आटा, 5 हरी मिर्च, 25 ग्राम अदरक, 6 कली लहसुन, दो प्याज, घी, लाल मिर्च पाउडर और धनिया पाउडर

साग बनाने की विधि
सरसों का साग बनाने के लिए सबसे पहले सभी प्रकार के साग को अच्छी तरह से साफ करके काटकर पानी से धोकर साफ कर लें। अब मिट्टी की हांडी या कुकर में साग और हरी मिर्च को काटकर डालकर धीमी आंच में पकने के लिए रख दें। जब यह पक जाए तो इसे अच्छी तरह से घोट लें। फिर साग को पकाते हुए आधा कप पानी में मक्की का आटे का घोल बनाकर साग में डालकर अच्छी तरह से मिला दें। इसके बाद कुछ देर के लिए और पकाए। साग जब अच्छी तरह से पक जाए तो इसमें प्लाज, लहसुन, जीरा और हींग का तड़का लगाए। बस तैयार है गर्मागर्म सरसों का साग।

मक्की की रोटी बनाने की विधि
मक्की की रोटी बनाने के लिए सबसे पहले आटे को छलनी में छान लें। इसके बाद इसे अच्छी तरह से गूंथ लें। याद रहे मक्की के आटे को थोड़ा थोड़ा पानी डालकर गूंथा जाता है। चाहे तो गुनगुने पानी का प्रयोग भी कर सकते हैं। इससे आटा नरम और मुलायम गूंथेगा। आटा गूंथने के बाद तवा गर्म करके हल्का घी लगाकर तवे पर रोटी बनाकर डाल दें। दोनों ओर से रोटी सिक जाने के बाद इसे तवे पर पराठे की तरह या फिर गैस पर रोटी की तरह सेंक कर सफेद मक्खन के साथ सर्व करें। ध्यान रहें कि सरसों के साग और मक्की की रोटी के साथ सफेद मक्खन इसके स्वाद को दोगुना बढ़ा देता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × 4 =