फिर सक्रिय हुआ इटली का खतरनाक माउंट एटना ज्‍वालामुखी, गर्म राख और गैस के आगोश में शहर

20
loading...

रोम। इटली का बेहद खतरनाक माउंट एटना ज्‍वालामुखी एक बार फिर से सक्रिय हो चुका है। इसको दुनिया के कुछ बेहद सक्रिय और खतरनाक ज्‍वालामुखी में गिना जाता है। इस बार माउंट एटना से गैस, लावा और गर्म राख निकलने की शुरुआत कुछ दिन पहले ही हुई है। इटली के सिसली द्वीप पर मौजूद इस ज्‍वालामुखी के समीपवर्ती इलाकों में रहने वाले लोग इसकी ताकत से वाकिफ है। बीते दिनों इसमें हुए धमाके के बाद इसमें से पहले गर्म गैस निकली और फिर गर्म राख ने काफी लंबी दूरी तक अपनी छाप छोड़ दी। इसके बाद इसमें होने वाले धमाके लगातार बढ़ते गए। अधिकारियों का कहना है कि इससे निकली राख से आसपास का इलाका पूरी तरह से भर गया है।

प्रशासन के मुताबिक 21 अक्‍टूबर से ही इसमें धमाके हो रहे हैं। धीरे-धीरे ये धमाके पहले से तेज होने लगे हैं। इससे निकली गैस, राख और लावा चारों तरफ फैल रहा है। आपको बता दें कि ये यूरोप का सबसे ऊंचा सक्रिय ज्‍वालामुखी भी है। इसकी ऊंचाई 11 हजार फीट से अधिक है। वर्ष 2021 में भी इसमें से लावा बाहर आया था और इसके बाद इसकी ऊंचाई करीब 100 फीट बढ़ गई। वर्ष 2000 के बाद ये लगातार दस वर्ष तक गैस, लावा और राख उगलता रहा है। इसके बाद जनवरी से अप्रैल 2012, जुलाई से अक्‍टूबर 2012, दिसंबर 2018 और फिर फरवरी 2021 में भी इससे लावा, गैस और गर्म राख निकली है।

वैज्ञानिक मानते हैं कि माउंट एटना में पहली बार धमाका करीब पांच लाख साल पहले हुआ था। बीते 15-30 हजार वर्ष के बीच इसमें बेहद तेज धमाके हुए हैं। इस दौरान इससे निकली राख यहां से करीब 800 किमी दूर स्थित रोम की सीमा के उत्‍तर में भी पाई गई है। वैज्ञानिक तो ये भी मानते हैं कि करीब आठ हजार वर्ष पहले इसमें हुए तेज धमाके की वजह से यहां पर सुनामी तक आई थी। इससे कुछ दूरी पर स्थित माउंट विसूवियस का इतिहास भी बेहद डरावना है। कहा तो यहां तक जाता है कि हर एक एक हजार वर्ष में इसका बेहद खौफनाक रूप देखने को मिलता है। 17 एडी में ये पोंपेई शहर को अपने आगोश में लेकर खत्‍म कर चुका है। इतिहास के पन्‍नों में इसकी ये खौफनाक कहानी दर्ज है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 × four =