पिता के साथ बैठी 6 साल की बच्ची को लेकर भागा तेंदुआ, 12 घंटे की तलाश के बाद मासूम का मिला सिर

159
loading...

बहराइच. उत्तर प्रदेश के बहराइच में एक तेंदुआ 6 साल की बच्ची को उठा ले गया। लगातार दूसरे दिन हुए तेंदुए के हमले से गांव में दहशत है। समाचार लिखे जाने तक कोई अफसर या वन कर्मी मौके पर नहीं पहुंचा था। लगातार हो रहे तेंदुए के हमले से ग्रामीणों में रोष है।

मिहींपुरवा तहसील के मोतीपुर रेंज के जंगल से काफी दूर स्थित ग्राम चंदनपुर के मजरा कलंदरपुर में आबादी के बीच रविवार की रात लगभग नौ बजे तेंदुआ पहुंच गया। इस गांव के निवासी देवतादीन यादव के घर में तेंदुआ घुसा। देवता दीन की छह बेटी राधिका (अंशिका) रात में अपने पिता के साथ घर में बैठी थी। तभी अचानक लाइट चली गई। अंधेरे का फायदा उठाकर तेंदुआ झपट्टा मार कर बच्ची को उठाकर पास के खेत की तरफ चला गया।

पिता की चीख-पुकार सुनकर दौड़े आसपास के ग्रामीणों ने शोर मचाते और हांका लगाते हुए बच्ची को ढूंढने का काफी प्रयास किया। मौके पर क्षेत्रीय ग्रामीणों की भारी भीड़ जुटी है। स्थानीय ग्रामीणों ने घटना की सूचना मोतीपुर वन रेंज व कार्यालय प्रभागीय वन अधिकारी को फोन से दी है।

मासूम का धड़ से अलग सिर 12 घंटे बाद घर से 300 मीटर दूर पड़ा मिला। बच्ची की मौत से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। आदमखोर तेंदुए के हमले से ग्रामीणों में दहशत है। परिजनों और ग्रामीणों में वन विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

9 + ten =