कृष्ण जन्माष्टमी पर आज यूपी में नाइट कर्फ्यू व संख्या में मिली छूट, भव्य तरीके से मनेगा कान्हा का जन्मोत्सव

61
loading...

लखनऊ. सूबे की योगी सरकार ने कृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर नाइट कर्फ्यू में ढील देने की घोषणा की है. हालांकि, इस दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करना जरूरी होगा. अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश कुमार अवस्थी ने रविवार देर शाम इस संबंध में शासनादेश जारी किया. शासनादेश में कहा गया है कि विशेष परिस्थितियों में प्रदेश में जन्माष्टमी के अवसर पर आयोजित कार्यक्रमों में निर्धारित उपस्थिति की सीमा एवं रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू में छूट प्रदान की जाती है. दरअसल, कोरोना पर नियंत्रण के बाद भी प्रदेश में रात्रि 10 बजे से सुबह 6 बजे तक का नाइट कर्फ्यू जारी है, लेकिन अब जन्माष्टमी को भव्य तरीके से मनाने के लिए इसमें छूट दी गई है.

यह आदेश भी दिया गया है कि प्रदेश की सभी पुलिस लाइंस एवं जेलों में जन्माष्टमी का पर्व भव्य रूप से भारतीय परंपरा के अनुसार मनाया जाए. यह भी सुनिश्चित किया जाए कि इन कार्यक्रमों में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन हो और मास्क और सेनेटाइजर का इस्तेमाल अवश्य किया जाए.

DGP मुकुल गोयल ने भी दिए ये आदेश
इससे पहले यूपी के डीजीपी मुकुल गोयल की ओर से जन्माष्टमी को लेकर विशेष निर्देश शनिवार देर शाम को जारी किए गए. डीजीपी के निर्देशों के मुताबिक सभी पुलिस अधिकारी अपने-अपने इलाकों में गश्‍त करते रहेंगे. निर्देशों में स्पष्ट किया गया है कि केंद्रीय गृह मंत्रालय और उत्तर प्रदेश शासन की ओर से कोविड-19 को देखते हुए जो एसओपी और गाइडलाइन जारी की गई है, उसी के मुताबिक त्‍योहार और पर्व का आयोजन किया जाएगा. निर्देशों में भी साफ किया गया है कि त्‍योहार के दौरान पुलिस वाहनों से लाउडस्पीकर के जरिए सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनने के लिए लोगों को जागरूक किया जाएगा. वहीं, सोशल मीडिया जैसे व्हाट्सएप, फेसबुक, टि्वटर और इंस्टाग्राम पर पुलिस को कड़ी निगरानी के निर्देश दिए हैं. किसी भी अफवाह पर उसका खंडन कर सख्त कार्रवाई के निर्देश भी डीजीपी की ओर से जारी किए गए हैं. सांप्रदायिक तौर से संवेदनशील इलाकों में शरारती तत्वों के खिलाफ निरोधात्मक कार्रवाई करते हुए छोटी सी छोटी घटना को भी गंभीरता से लेकर तुरंत रिस्पांस के निर्देश दिए हैं.

सतर्क रहने के निर्देश
संवेदनशील इलाकों में सतर्क दृष्टि रखने के साथ एंटी सबोटाज चेक, एक्सेस कंट्रोल और क्विक रिस्पांस टीम की तैनाती के निर्देश दिए गए हैं. आपको बताते चलें कि सोमवार को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का त्‍योहार है. जन्माष्टमी के दौरान मंदिरों में श्रीकृष्ण का जन्म, उनकी लीलाओं की झांकी सजाई जाती है और कई जगह मेले भी लगाए जाते हैं. आमतौर पर जन्माष्टमी के दौरान मंदिरों और उसके आसपास भीड़भाड़ बनी रहती है, लेकिन कोरोना गाइडलाइंस के चलते डीजीपी मुकुल गोयल की ओर से शनिवार शाम निर्देश जारी किए गए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twenty + thirteen =