रीता बहुगुणा का घर जलाने के आरोपी जितेंद्र सिंह भी भाजपा में शामिल

18
loading...

लखनऊ. वर्ष 2009 में रीता बहुगुणा जोशी का घर जलाने के आरोपी बीकापुर (अयोध्या) से बसपा के पूर्व विधायक जितेंद्र कुमार सिंह बब्लू भी बुधवार को भाजपा के हो गए। भाजपा मुख्यालय पर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने जितेंद्र कुमार सिंह के साथ ही कांग्रेस व बसपा के कुछ अन्य नेताओं को भाजपा की पट्टिका पहनाई। इस कार्यक्रम में भाजपा में शामिल होने वालों में कांग्रेस के पूर्व प्रदेश महासचिव पूर्व लोकसभा प्रत्याशी पंकज मोहन सोनकर(आजमगढ़), बसपा के पूर्व कोआर्डिनेटर मनोज शर्मा (गाजियाबाद) तथा बसपा से पूर्व लोकसभा प्रत्याशी प्रवेश सिंह (रायबरेली), सेवानिवृत्त एयर कोमोडोर श्याम शंकर तिवारी तथा समाज सेविका डा. बीना लवानिया शामिल हैं। मंच का संचालन भाजपा के प्रदेश महामंत्री एमएलसी गोविंद नारायण शुक्ला ने किया। पूर्व विधायक रीता बहुगुणा जोशी का घर जलाने के कांड में जितेंद्र कुमार सिंह भी आरोपी हैं। गौरतलब है कि रीता बहुगुणा जोशी भी इस समय भाजपा से ही सांसद हैं।

स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि भाजपा की गौरवशाली परम्परा में जनकल्याणकारी योजनाओं व निर्णयों से गरीब, वंचित, शोषित व उपेक्षित वर्ग को सम्मान, न्याय, उनके जीवन की खुशहाली के लिए सत्ता माध्यम मात्र है। डा. श्यामा प्रसाद मुखर्जी व पंडित दीनदयाल उपाध्याय ने देश की एकता-अखंडता तथा राजनैतिक मूल्यों के लिए जीवन का बलिदान दिया। दीनदयाल जी के अन्त्योदय के मूल में अंतिम पायदान के व्यक्ति के जीवन में समृद्धि के साथ ही शक्तिशाली व समृद्ध राष्ट्र की अवधारणा है, उसी मार्ग पर प्रधानमंत्री मोदी तथा मुख्यमंत्री योगी के नेतृत्व में केन्द्र व राज्य की सरकारें आगे बढ़ रही हैं।उन्होंने कहा कि भाजपा वंशवाद, क्षेत्रवाद, जातिवाद, परिवारवाद वाली पार्टी नहीं है। पार्टी का एक-एक कार्यकर्ता जनकल्याण के लिए सेवा भाव से काम करता है। बूथ पर काम करने वाला कार्यकर्ता भी एक दिन प्रदेश अध्यक्ष व राष्ट्रीय अध्यक्ष सहित किसी भी दायित्व पर पहुंच सकता है।

इस अवसर पर प्रदेश महामंत्री व सांसद सुब्रत पाठक, क्षेत्रीय अध्यक्ष शेष नारायण मिश्रा, प्रदेश मीडिया प्रभारी मनीष दीक्षित, प्रदेश मीडिया सह प्रभारी हिमांशु दुबे, अभय प्रताप सिंह, प्रदेश प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी, सांसद विजय दुबे, विधान परिषद सदस्य ठाकुर जयवीर सिंह तथा विधायक सुशील सिंह प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seventeen − 17 =