मुंबई की डॉक्‍टर तीन बार हुई कोरोना पॉजिटिव, दोनों डोज लेने के बाद भी दो बार हुई पॉजिटिव

97
loading...

मुंबई. मुंबई में एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है. दरअसल 26 साल की एक डॉक्टर सृष्टि हलारी 13 महीने में तीन बार कोरोना पॉजिटिव हुई जिसमें दो बार तो वह वैक्सीन की दोनों डोज़ लेने के बाद भी कोरोना की शिकार बनी, इस डॉक्टर की मां, पिता और भाई भी वैक्सीन की दोनों डोज़ के बाद जुलाई में पहली बार कोविड पॉज़िटिव हुए और पूरा परिवार अस्पताल में भर्ती हुआ।

डॉक्टर और उनके भाई के स्वॉब की जीनोम एनालिसिस चल रही है, अब विशेषज्ञ ये पता लगा रहे हैं कि कहीं ये वायरस का कोई नया स्ट्रेन तो नहीं ? सिर्फ़ डॉ सृष्टि ही नहीं, इनका पूरा परिवार, माता-पिता और भाई भी अप्रैल में वैक्सीन की दोनों डोज़ लेने के बाद जुलाई में कोविड पॉज़िटिव हुए थे, मुंबई के मुलुंड के वीर सावरकर अस्पताल में कोविड ड्यूटी पर तैनात डॉ हलारी को 17 जून 2020 को पहली बार कोरोना हुआ लेकिन बेहद कम लक्षण थे, कोविशील्ड टीके की पहली डोज़ इन्‍होंने 8 मार्च को ली और दूसरी डोज़ 29 अप्रैल को।

पूरा परिवार साथ में वैक्‍सीनेट हुआ लेकिन क़रीब एक महीने बाद 29 मई को डॉ सृष्टि दूसरी बार कोविड पॉज़िटिव हुईं,उनमें लक्षण थे लेकिन घर पर ही ठीक हुईं। मामला यही खत्‍म नहीं होता, क़रीब सवा महीने बाद 11 जुलाई को फिर डॉक्‍टर सृष्टि (तीसरी बार) कोविड पॉज़िटिव हुईं, इस बार टेस्ट में पूरा परिवार- मां, पिता और भाई भी पॉज़िटिव निकले. सभी को अस्पताल में भर्ती होना पड़ा और रेमडेसिविर की भी ज़रूरत पड़ी। यह मामला इसलिए भी चौंकाता है क्‍योंकि डॉक्‍टर सृष्टि में वैक्सीन के बाद अच्छी एंटीबॉडी भी बनी थी, इनके पिता भी डॉक्टर हैं, पूरे परिवार को कोई न कोई बीमारी है लेकिन सृष्टि को नहीं है, इसके बाद भी वे तीन बार कोरोना पॉज़िटिव हुईं। बहरहाल डॉक्टरों का कहना है कि वैक्सीन के दोनों डोज़ के बाद भी लगभग हर एज ग्रुप में संक्रमण तो दिखा है पर ऐसे मरीज़ जल्द रिकवर करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

9 + 10 =