पुलिस व स्वाट टीम ने अंतर्राज्जीय वाहन चोरी करने वाला गैंग दबोचा

41
loading...

बिजनौर 3 अप्रैल। कोतवाली पुलिस व स्वाट टीम ने वाहन चोरी का बड़ा गैंग दबोचा है। पुलिस ने सूचना पर चक्कर चौराहा नगीना रोड से चार अभियुक्त गिरफ्तार किए। अभियुक्तों की निंशादेही पर झालू रोड से इनके अन्य नौ साथी भी गिरफ्तार किए। अभियुक्तों के पास से दस कारे, दस बाईक व अवैध शस्त्र बरामद किए है। यह गैंग मेरठ, दिल्ली में भी सक्रिय था। गैंग ने बिजनौर समेत कई जगह से कार चोरी की है। पुलिस पकडे गए अभियुक्तों से पूछताछ करने में जुटी है। एक अभियुक्त पर हापुड से 25 हजार रूपये का इनाम भी घोषित किया गया था।

कोतवाली पुलिस व स्वाट टीम ने मुखबिर की सूचना पर चक्कर चौराहा नगीना रोड से अंतर्राज्जीय वाहन चोरी करने वाले गैंग लीडर महेंद्र उर्फ घोड़ा पुत्र मक्खन गुर्जर निवासी मोहल्ला काबलीगेंट थाना मवाना मेरठ मूल निवासी ग्राम सिखेड़ा थाना परीक्षितगढ मेरठ, 25 हजार का इनामी दीपक सैनी पुत्र राम निवास निवासी ग्राम गोयना कोतवाली शहर हापुड़, दीपक उर्फ सचिन पुत्र सुरेंद्र जुलाहा निवासी चौकपुरी थाना हीमपुर दीपा, ऋषभ उर्फ छोटू पुत्र राजवीर निवासी अब्दुल रहमानपुर पुरेना थाना नूरपुर को चोरी की चार कार, एक तंमचा व दो जिंदा कारतूस 315 बोर, एक चाकू सहित गिरफ्तार किया गया।

गिरफ्तार अभियुक्तों की निंशादेही पर झालू रोड से इनके साथी मोहम्मद शाहिद पुत्र ताहिर निवासी मोहल्ला कल्याण सिंह कस्बा व थाना मवाना मेरठ, मनव्वर पुत्र शरीफ निवासी मोहल्ला बाहरकिला थाना मंगलौर जनपद हरिद्वार, शाहिद पुत्र हनीफ ग्राम भैंसा थाना मवाना मेरठ, शहजाद पुत्र उमर निवासी ग्राम सरकड़ा चकराजमल थाना धामपुर, अमित त्यागी पुत्र नरेंद्र त्यागी निवासी ग्राम कमालपुर थाना चांदपुर, अंकित ठाकुर पुत्र ब्रहापाल ठाकुर निवासी मोहल्ला ठाकुरों वाला कस्बा व थाना गढ़मुक्तेश्वर हापुड़, फुंगानगम पुत्र मीहोनलुंग निवासी ग्राम बिटियांग लाफोक थाना खोउपुम जिला नौने मणिपुर, नवाज खान पुत्र अब्दुल सलाम निवासी ओइनम साओमबंग थाना वानगोई जिला इंफाल वेस्ट मणिपुर, जयराम पुत्र बाबूराम निवासी ग्राम नवलपुर थाना मनोहरपुर राजस्थान को गिरफ्तार कर छह कार व दस बाइक बरामद की है।
अभियुक्तों ने पूछताछ में बताया कि अंतर्राज्जीय वाहन चोर गैंग है। गैंग वाहनों को चोरी कर इंजन व चेसिस नंबर के परिवर्तन कर आसाम एवं राजस्थान तथा यूपी के अन्य राज्यों में इनको बेच देते थे। पिछले कुछ दिनों से गैंग बिजनौर में सक्रिय होकर वाहन चोरी की घटनाओें को अंजाम दे रहा था।

गिरफ्तारी करने वाली स्वाट टीम में निरीक्षक राजकुमार शर्मा, एसआई संजय कुमार, हेड कांस्टेबल राजकुमार नागर, कांस्टेबल खालिद, मोहित शर्मा, रईस अहमद, रणजीत मलिक, सुनीत, मोहित कुमार, गौरव तोमर, अरूण कुमार, विकास बैंसला, मोनू कुमार, दीपक तोमर व कोतवाली शहर पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक राधेश्याम, एसआई देवानंद सैनी, एसआई जर्रार हुसैन, कु लदीप राणा, अभिलाष प्रधान, धर्मेद्र सिंह, योगेश कुमार, कांस्टेबल अरविंद, विजय, देवेश, नितिन कुमार, दीपक कुमार, सचिन, सरवर अली, शिवकुमार आदि मौजूद रहे। एसपी डा. धर्मवीर सिंह ने पुलिस टीम के उत्साहवर्धन के लिए 25 हजार पुरस्कार राशि टीम को दी।

वाहन चोरी गैंग के लीडर महेंद्र उर्फ घोडा पर दिल्ली, हापुड़, मेरठ कई थानो में 32 मुकदमें, दीपक सैनी पर मेरठ, गाजियाबाद, हापुड़ थानो में 18 मुकदमे, सचिन पर गाजियाबाद, अच्छनेरा आगरा, धनौरा मंडी अमरोहा, गजरौला में 12 मुकदमे, मनव्वर पर मवाना थाने में दो मुकदमें दर्ज है।

पूछताछ में अभियुक्तों ने बताया कि चोरी की गाड़ियों में जो ज्यादा गाड़ी पुरानी होती है उनको अपने साथी की ग्राम सरकड़ा चकराजमल धामपुर गैराज में कटवा देते थे। यह गैंग पुरानी चार पहिया गाड़ियों को औसतन 25 हजार में तथा नई चार पहिया एसयूवी गाड़ियों को औसतन तीन से चार लाख रूपये में तथा दो पहिया बाईकों को पांच से दस हजार रूपये में बेच देते थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × five =