आवारा कुत्तों को खाना खिलाने के लिए हर सेक्टर में बनेंगे फीडिग प्वाइंट

30
loading...

नोएडा. आवारा कुत्ते और बेसहारा पशुओं को खाना खिलाने के लिए शहर के कई सेक्टरों में आए दिन विवाद होते रहते हैं। जिसपर विराम लगाने के लिए नोएडा में जल्द ही हर सेक्टर में आवारा कुत्तों के लिए फीडिग प्वाइंट तैयार किए जाएंगे। इन्हें सोसायटी निवासियों की सहमति से ही बनाया जाएगा ताकि लोगों के बीच विवाद की जड़ खत्म हो सके। हाल ही में दिल्ली उच्च न्यायालय ने भारतीय पशु कल्याण बोर्ड (एडब्ल्यूबीआइ) से आवारा कुत्तों को खाना खिलाने के लिए हर क्षेत्र में स्थान चिह्नित करने के लिए कहा था, ताकि लोगों के बीच शांति और सद्भाव कायम रहे। इसके बाद नोएडा प्राधिकरण हरकत में आया।
सेक्टर में फीडिग प्वाइंट तैयार करने के लिए नोएडा प्राधिकरण ने जिले के सभी आरडब्ल्यूए को पत्र लिखकर जानकारी मांगी है कि सेक्टर में कितने फीडिग प्वाइंट की आवश्यकता है। एक सप्ताह में सभी आरडब्ल्यूए पदाधिकारियों को इसका जवाब देना होगा। इसके अतिरिक्त हाईराइज सोसायटियों में स्थापित एओए भी नोएडा प्राधिकरण के जन स्वास्थ्य विभाग को पत्र लिखकर फीडिग प्वाइंट बनाने की जानकारी देगी। इसके बाद प्राधिकरण के अधिकारी चिह्नित स्थानों का जायजा लेकर वहां फीडिग प्वाइंट तैयार कर बोर्ड लगाएंगे। इस दौरान इस बात का विशेष ध्यान रखा जाएगा कि फीडिग प्वाइंट किसी के घर के प्रवेश द्वार के सामने न हो, व्यस्त मार्ग पर न हो, सेक्टर के किसी प्रमुख स्थान पर न हो, इससे किसी की आवाजाही में समस्या उत्पन्न न हो।
कुत्तों को खाना खिलाने के लिए एनजीओ का लिया जाएगा सहारा फीडिग प्वाइंट पर आवारा पशुओं को पशु प्रेमी (फीडर) भोजन उपलब्ध कराएंगे। इसके अलावा नोएडा प्राधिकरण जिले में पशुओं पर कार्य कर रहे विभिन्न एनजीओ से संपर्क कर रहा है, ताकि किसी विशेष वर्ग पर इसका भार न पड़े। इसका लाभ यह रहेगा कि अबतक वह सड़कों पर कहीं भी खाना छोड़ जाते थे, जिससे गंदगी फैलने के साथ ही कई तरह की समस्या उत्पन्न होती थी, इससे निजात मिलेगी। निर्धारित जगह पर भोजन मिलने से पशुओं को भी सहारा मिलेगा और वह कम आक्रामक होंगे। इससे काफी हद तक कुत्तों के काटने की घटना पर विराम लग सकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

18 + sixteen =