ट्रेन में सफर करना है तो ये गाइडलाइंस जरूर पढे़, वरना होगी मुश्किल

105
loading...

नई दिल्ली 30 मार्च। कोरोना महामारी के बढ़ते संक्रमण के बीच एक बार फिर केंद्र और राज्य सरकारों की ओर से गाइडलाइंस जारी किए गए हैं. वहीं भारतीय रेलवे की ओर से भी यात्रियों को कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करने को कहा गया है. ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों के स्वास्थ्य और सुरक्षा को लेकर भारतीय रेलवे ने लोगों को तमाम जरूरी गाइडलाइंस का ध्यान रखने की सलाह दी है.
रेल मंत्रालय की ओर से यात्रियों से एक बार फिर कोविड गाइडलाइंस का सख्ती से पालन करने को कहा गया है. खासकर राज्यों की ओर से जारी कोविड गाइडलाइंस का भी ध्यान रखना जरूरी है. रेलवे की ओर से लगातार ट्वीट कर इस बारे में यात्रियों को आगाह किया जा रहा है.

रेल मंत्रालय ने ट्वीट कर यात्रियों से अपील की है कि वे यात्रा करने से पहले विभिन्न राज्यों द्वारा जारी स्वास्थ्य सलाह संबंधित दिशानिर्देशों को पढ़ लें. ट्वीट में कहा गया है कि यात्री ट्रेन में सफर करने से पहले राज्यों के दिशानिर्देश पढ़ लें. खासकर जिस राज्य में आप जा रहे हैं, उस राज्य के दिशानिर्देश तो जरूर पढ़ लें.हाल के दिनों में कई राज्यों में कोरोना के नए स्ट्रेन से संक्रमण के मामले बढ़े हैं. इसको लेकर कई राज्यों में दोबारा सख्ती कर दी गई है. कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच कई राज्यों ने अलग-अलग गाइडलाइन जारी की गई है.

जैसे कुछ राज्यों में एंट्री के लिए वैक्सीन सर्टिफिकेट या RT-PCR निगेटिव टेस्ट रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य कर दिया गया है. राजस्थान सरकार ने भी अन्य राज्यों से आने वाले लोगों के लिए यह जरूरी कर दिया है.
यात्रियों की सुरक्षा के लिए रेलवे अधिक सर्तकता बरत रहा है. पूर्व मध्य रेलवे, पूर्वोत्तर रेलवे, पश्चिम रेलवे समेत कई जोनल रेलवे की ओर से इस बारे में एडवाइजरी जारी की गई है. स्टेशनों पर थर्मल स्कैनिंग, मास्क पहनने जैसे नियमों का सख्ती से पालन करना जरूरी है. बिहार में महाराष्ट्र, पंजाब और केरल से आने वाले यात्रियों के लिए कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट जरूरी होने की व्यवस्था 17 मार्च से ही लागू कर दी गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × three =