नए शोध में खुलासा, रोजाना सेब खाने से बढ़ती है स्मरण शक्ति

15
loading...

नई दिल्ली, 20 फरवरी। अक्सर आपने लोगों को यह कहते सुना होगा कि रोजाना एक सेब खाने वाले व्यक्ति को कभी डॉक्टर के पास नहीं जाना पड़ता है। वहीं, कुछ लोगों का कहना है कि रोजाना सेब खाने वाले लोग किसी दूसरे ग्रह पर जीवन यापन करते हैं। इस बारे में उनका ऐसा मानना है कि सेब खाने वाले व्यक्ति कभी बीमार नहीं पड़ता है। ऐसा तब होता है जब कोई व्यक्ति दूसरे प्लानेट पर रहता है। जहां, वह हमेशा सेहतमंद रहता है। इससे पहले भी कई शोधों में यह खुलासा हो चुका है कि सेब सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है। एक शोध में यह बताया गया है कि सेब खाने से स्मरण शक्ति बढ़ती है। इस शोध के अनुसार सेब में कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं, जो मस्तिष्क के लिए फायदेमंद होते हैं। इनसे अल्जाइमर का खतरा भी कम हो जाता है।

इसे भी पढ़िए :  बेलगाम ऑटो पर कसेगा शिकंजा, कलर कोडिंग से तुरंत होगी पहचान

शोध की मानें तो सेब में फाइटोन्यूट्रिएंट्स पाए जाते हैं। फाइटोन्यूट्रिएंट्स ऐसे प्राकृतिक तत्व होते हैं, जो सब्जियों, फलों, साबुत अनाजों और दालों में पाए जाते हैं। यह न्यूट्रिशंस के साथ मिलकर काम करते हैं, जो स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं। साथ ही स्मरण शक्ति को कम करने वाली बीमारियों के खतरे को कम करने में सहायक होते हैं। साथ ही यह न्यूरॉन्स को बनाने में अहम भूमिका निभाते हैं। इस प्रक्रिया को न्यूरोजेनेसिस कहा जाता है। न्यूरॉन्स एक उत्तेजनीय कोशिका है। इसका काम मस्तिष्क से सूचना का आदान प्रदान करना है। साथ ही यह शरीर के सभी हिस्सों में
इलेक्ट्रॉनिक्स सिग्नल्स भेजते हैं। सेब के छिलके में quercetin और खाने वाले फल में dihydroxy benzoic acid (DHBA)पाए जाते हैं। इनसे न्यूरॉन्स उत्पन्न होते हैं। यह शोध चूहों पर किया गया है और शोध संतोषजनक रहा। सेब के सेवन से चूहों की स्मरण शक्ति बढ़ी है। इसके लिए स्मरण शक्ति बढ़ाने के लिए रोजाना एक सेब जरूर खाएं।

इसे भी पढ़िए :  सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, कई युवक व युवतियां आपत्तिजनक हालत में गिरफ्तार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eight − 6 =