वायु प्रदूषण से एक साल में 16 लाख मौतें

19
loading...

नई दिल्ली. दिल्ली-एनसीआर सहित देशभर में वायु प्रदूषण भयावह रूप लेता जा रहा है। हर प्रयास के बावजूद दमघोंटू हवा जिंदगियां लील रही है। आलम यह है कि 2019 में देश के विभिन्न हिस्सों से 16.7 लाख लोग असमय काल का ग्रास बन गए। इनमें आधी से अधिक मौतें उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, बिहार, बंगाल और राजस्थान में दर्ज की गई हैं। लगभग साढ़े तीन लाख मौतें यूपी में हुईं।
अकेले दिल्ली में ही 17,248 लोगों ने वायु प्रदूषण से दम तोड़ दिया। चौंकाने वाले यह तथ्य सामने आए हैं सेंटर फार साइंस एंड एन्वायरमेंट (सीएसई) की वार्षिक रिपोर्ट स्टेट आफ इंडियाज एन्वायरमेंट 2021 में। औपचारिक तौर पर यह रिपोर्ट 25 फरवरी को जारी होगी। सत्रों के मुताबिक यह रिपोर्ट बताती है कि इतनी अधिक संख्या में हुई मौतों से देश की अर्थव्यवस्था को भारी नुकसान हुआ है।

राज्यों की स्थिति राज्य मौतों की संख्या
उत्तर प्रदेश 3,49,926
महाराष्ट्र 1,39,118
बिहार 1,26,460
बंगाल 1,22,833
राजस्थान 1,13,361
मध्य प्रदेश 1,12,009
कर्नाटक 89,184
गुजरात 87,811
तमिलनाडु 84,587
आंध्र प्रदेश 62,808
छत्तीसगढ़ 41,519
पंजाब 41,090
तेलंगाना 35,364
हरियाणा 34,119
झारखंड 33,136
दिल्ली 17,248
उत्तराखंड 16,989
हिमाचल प्रदेश 10,383

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

20 − 9 =