अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश को हाईकोर्ट ने सुप्रीम कोर्ट के 10 आदेश पढ़कर निबंध लिखने का दिया आदेश

5
loading...

चंडीगढ़। अग्रिम जमानत के मामले में सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का अनुसरण न करने पर पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने लुधियाना के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश को न्यायाधीश के अधिकार क्षेत्र पर 30 दिन के भीतर निबंध तैयार कर चंडीगढ़ न्यायिक अकादमी के निदेशक को सौंपने का आदेश दिया है। यह निबंध अग्रिम जमानत संबंधी सुप्रीम कोर्ट के 10 आदेश पढ़कर तैयार करना है।
हिरासत में हत्या के आरोपी पुलिस कर्मी अमरजीत सिंह व दो अन्य की ओर से हाईकोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए याचिका दाखिल की गई थी। याची ने बताया कि निचली अदालत में यह जानकारी दी गई थी कि जिस व्यक्ति की हिरासत में हत्या की बात कही जा रही है वह जीवित है। इस जानकारी के बाद भी उनकी याचिका खारिज कर दी गई। हाईकोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा कि पहली नजर में यह मामला साबित करता है कि अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश क्षेत्राधिकार का प्रयोग करने में विफल रहे। जज ने टिप्पणी की कि लगातार न्यायिक अकादमियों में सत्र आयोजित करने केबाद भी न्याय अधिकारियों की यह दशा है।

इसे भी पढ़िए :  पुरानी हवेली की खुदाई में निकला चांदी के सिक्कों से भरा कलश; पौने 2 किलो के 140 सिक्के मिले, मची लूट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × 2 =