वॉन्टेड दूल्हा पुलिस को देख मंडप छोड़कर हुआ फरार, दुलहन के घरवालों ने परिवार को बनाया बंधक

118
loading...

प्रयागराज 4 दिसंबर। उत्तर प्रदेश के प्रयागराज मेजा इलाके के एक गांव में रात बारात आई। बारात के स्वागत के बाद दूल्हा लापता हो गया। दूल्हे के गायब होने से दोनों परिवारों में खलबली मच गई। फिर मंडप से लेकर पूरे घर और पंडाल में दूल्हे को ढूंढा गया, लेकिन दूल्हा कहीं नहीं मिला। दोनों पक्षों में विवाद होने लगा। पता चला कि दूल्हा पुलिस का वॉन्टेड था और बारात में पुलिसवालों को देखर वह मौके से भाग गया था। मेजा इलाके के मोजिया गांव के रहने वाले कमला शंकर यादव के यहां मिर्जापुर कसगना गांव के शंकर यादव अपनी बारात लेकर आए थे। पूरा परिवार इस कार्यक्रम को लेकर काफी खुश था और शादी की सारी रस्में अदा की जा रही थीं। जब मंडप रस्म खत्म होने के बाद जयमाल का समय आया तो दूल्हा स्टेज तक नहीं पहुंचा।

इसे भी पढ़िए :  इसरो ने लॉन्‍च किया साल का पहला मिशन, अंतरिक्ष में भेजी भगवद्गीता और PM मोदी की फोटो

दूल्हे के परिवार को बनाया बंधक
देर तक खोजबीन की गई लेकिन कुछ पता ना चल सका और इस मामले में कोई सही से जवाब दे नहीं पा रहा था। परिवार में तकरार शुरू हुई और दुल्हन के घरवालों ने दूल्हे के घरवालों के सारे गाड़ियों के टायर से हवा निकाल दी। हंगामा बढ़ता देख बहुत से बराती वहां से फरार हो गए। वहीं दुलहन के घरवालों ने दूल्हा के परिवार के लोगों को बंधक बना लिया।

इसे भी पढ़िए :  कुंभ क्षेत्र में आज दोपहर से भारी वाहनों की नो एंट्री

दूल्हे का आपराधिक इतिहास नहीं जानता था दुलहन का परिवार
दूल्हे के भागने को लेकर काफी देर तक तू तू मैं मैं चलती रही। दुलहन के घरवालों को पता चला कि कोरांव इलाके के एक हत्या में दूल्हा वांछित था। उसकी तलाश पुलिस को बहुत दिनों से थी। सटीक सूचना के बाद पुलिस जब वहां पहुंची तो दूल्हा पकड़े जाने के डर से वहां से पहले ही फरार हो गया। दूल्हे के आपराधिक इतिहास की जानकारी दुलहन के घरवालों को नहीं थी।

इसे भी पढ़िए :  अब सोशल मीडिया ओटीटी प्लेटफॉर्म के लिए बनेंगे कड़े नियम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

thirteen − 10 =