एचसीएल की रोशनी नडार सबसे अमीर भारतीय महिला, मजूमदार-शॉ दूसरे स्थान पर

25
loading...

मुंबई। सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र की कंपनी एचसीएल टेक्नोलॉजीज की रोशनी नडार देश की सबसे अमीर महिला हैं। उनकी कुल संपत्ति ५४‚८५० करोड़ रु पए है। हुरु न इंडिया और कोटक वेल्थ द्वारा तैयार अरबपति भारतीय महिलाओं की सूची में ३६‚६०० करोड़ रुûपए की संपदा के साथ बायोकान की किरण मजूमदार शा दूसरे स्थान पर हैं। इस सूची में कम से कम १०० करोड़ रुûपए की संपत्ति वाली १०० महिलाओं को शामिल किया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि इनमें से ३१ महिलाएं ऐसी हैं जिन्होंने अपने दम पर यह मुकाम हासिल किया है।
इनमें से छह पेशेवर प्रबंधक और २५ उद्यमी हैं। अपने दम पर इस स्थान पर पहुंचने वाली महिलाओं की श्रेणी में मजूमदार शा सबसे आगे हैं। उनके बाद ११‚५९० करोड़ रु पए की संपदा के साथ जोहो की राधा वेंबु का स्थान है। अरिस्ता नेटवर्क्स की जयश्री उल्लाल १०‚२२० करोड़ रुûपए की संपदा के साथ तीसरे स्थान पर हैं। दिलचस्प तथ्य यह है कि इस सूची में पहले तीन स्थान पर शामिल मजूमदार–शा‚ उल्लाल और वेंबु हुरून की अमीरों की सूची में भी हैं। सूची में शामिल महिलाओं की औसत आयु ५३ साल है। १०० की सूची में १९ महिलाएं ४० साल से कम उम्र की हैं।
अमीर महिलाओं की कुल संपदा २.७२ लाख करोड़ रु पए आंकी गई है। दो महिलाएं ऐसी हैं जो यूनिकार्न (एक अरब डॉलर मूल्य से अधिक की स्टार्टअप कंपनी) की प्रवर्तक हैं। इनमें रिटेलर नायका की फाल्गुनी नायर की संपत्तियां ५‚४१० करोड़ रु पए और बायजू की ३४ वर्षीय दिव्या गोकुलनाथ की संपदा ३‚४९० करोड़ रु पए है। देश के कुछ परिवार ऐसे हैं जिनकी एक से अधिक महिलाएं अमीरों की सूची में शामिल हैं। अपोलो हास्पिटल्स एंटरप्राइज की चार और गोदरेज समूह की तीन महिलाएं सूची में शामिल हैं। विभिन्न क्षेत्रों की बात की जाए‚ तो फार्मा क्षेत्र से १३‚ कपड़ा और परिधान क्षेत्र से १२ और स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र से नौ महिलाएं इस सूची में जगह बनाने में कामयाब रही हैं। सूची में ३२ महिलाएं मुंबई‚ २० नई दिल्ली और १० हैदराबाद से हैं। इन १०० में से कुछ ही महिलाओं ने परमार्थ कार्यों के लिए योगदान देने वालों की सूची में जगह बनाई है।

इसे भी पढ़िए :  रोजगार परक शिक्षा जरूरी, इसके लिए कहीं और न देखेंः मोहन भागवत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seven + twelve =