कोरोना के बाद मीटिंग के 4 रूल्स, जिनका पालन जरूरी है

155
loading...

कोविड 19 महामारी के दौरान, जैसे बाक़ी चीज़ें बदली हैं, उसी तरह रोमैंस का अंदाज़ भी काफ़ी कुछ बदल गया है. वे लोग जो पहले ऑनलाइन डेटिंग को लेकर दुविधा में थे, महामारी के दौरान इसका जमकर इस्तेमाल कर रहे हैं. संभावित पार्टनर के साथ कम्यूनिकेट करने का तरीक़ा बदल गया. इसके अलावा डेटिंग की दुनिया में कई नए रूल्स आ गए हैं, जो सुरक्षा के लिहाज़ से बेहद ज़रूरी हो गए हैं. हम उनमें से चार नियमों के बारे में बात करने जा रहे हैं, जिनका पालन करना बहुत ही ज़रूरी है.

रूल नंबर 1: बस यूं ही कयास लगाने के बजाय एनलाइज़ करें
लोगों से वर्चुअली मिलना असल ज़िंदगी में मिलने की तुलना में काफ़ी अलग अनुभव होता है. वर्चुअली मिलने पर सबसे आसान काम होता है तुरंत ही किसी के बारे में कयास लगाकर अपनी पूर्व धारणा बना लेना. पर अगर आप सचमुच डेटिंग को लेकर सीरियस हैं तो इस आदत को तुरंत बदल दें. सामने वाले को थोड़ा समय दें. दिमाग़ को थोड़ा ओपन रखें और किसी के मिलते ही उसकी आलोचना करना या उसके बारे में राय बनाना बंद करें. किसी भी तरह के नतीज़े पर पहुंचने से पहले एनलाइज़ करें.

इसे भी पढ़िए :  यूपी-दिल्ली बॉर्डर पर 32 साल बाद किसानों ने लगाई धारा 288, गाजियाबाद में बसाए जा रहे गांव

रूल नंबर 2: वर्चुअल बातचीत
बेशक चीज़ें समय के साथ सामान्य की तरफ़ बढ़ रही हैं, पर इसका यह बतलब नहीं है कि आप किसी नए व्यक्ति से मिलते समय सारी सावधानियों को ताक पर रख दें. कोविड 19 की वजह से आपको मौक़ा मिल गया है कि किसी व्यक्ति से डायरेक्ट मुलाक़ात करने के बजाय लंबे समय तक फ़ोन या चैट के माध्यम से बातचीत करें. ज़ाहिर है, सीधे मिलने के बजाय डिजिटल मीडियम से संपर्क करना उतना सुविधाजनक नहीं है, पर किसी अनजान व्यक्ति को जानने-समझने के लिए तो ठीक ही है. और संक्रमण के इस दौर में सुरक्षित भी.

इसे भी पढ़िए :  सरकारी स्कूलों के 8वीं से 12वीं तक बच्चों को नि:शुल्क मिलेगा टैबलेट, हरियाणा सरकार ने बनाई योजना

रूल नंबर 3: बिना प्रिकॉशन्स के शारीरिक संबंध न बनाएं
रोमैंटिक रिलेशनशिप में शारीरिक संबंध बनते ही हैं. हालांकि कोविड 19 के चलते दूरी ज़रूरी हो गई है, ख़ासकर जब दो अलग-अलग जगहों से आ रहे लोग मिल रहे हों. ऐसे में यदि आप अपने वर्चुअल रिश्ते को अगले लेवल पर ले जाना चाहते हों तो आपको चाहिए कि सुरक्षा के गाइडलाइन्स का पालन ज़रूर करें. आपको चाहिए कि आप अपने प्रेमी या प्रेमिका से पहले तो सुरक्षित दूरी बनाकर रखें. यदि शारीरिक संबंध बनाना चाहते हैं तो क्वॉरंटाइन के नियमों का पालन करने के बाद ही इस मामले में आगे बढ़ने के बारे में सोचें.

इसे भी पढ़िए :  वकील की जरूरत नहीं, खुद करा सकेंगे दाखिल खारिज

रूल नंबर 4: मास्क को कभी न भूलें?
हालांकि हम सभी लोग यही सोचते हैं कि कोरोना न तो हमें होनेवाला है और न ही हमारे सबसे क़रीबी लोगों को. पर यह एक बहुत बड़ी ग़लतफ़हमी है. कोरोना किसी को भी हो सकता है. इसलिए जब आप अपने वर्चुअल डेट से रियल लाइफ़ में मिलने जाएं तो मास्क ज़रूर लगाकर जाएं. सेनेटाइज़र का इस्तेमाल भी ज़रूर करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

11 + 11 =