रिटायरमेंट वाले माह में ही सरकारी कर्मचारियों को मिल जाएगा ये फंड, वित्‍त विभाग का नया निर्देशनामा जारी

127
loading...

भुवनेश्वर। राज्य सरकार अब अपने कर्मचारियों को रिटायरमेंट वाले महीने में ही जीपीएफ प्रदान करेगी। जीपीएफ अब राज्य पेंशन ट्रेजेरी से सीधे कर्मचारी के बैंक खाते में प्रदान किया जाएगा। कर्मचारी जिस प्रकार से अपनी पेंशन व अन्य अवसरकालीन सुविधा सीधे पाते हैं ठीक उसी तरह से General provident fund Teachers, Provident Fund अब रिटायरमेंट वाले महीने में ही मिलेगा।

वित्त विभाग के दिशा-निर्देश
वित्त विभाग की तरफ से जारी दिशा-निर्देश के मुताबिक अब राज्य सरकार के कर्मचारी को रिटायरमेंट वाले महीने में ही निर्णायक जीपीएफ उनके खाते में चला जाएगा। इसके साथ ही अवसर लेने के साथ ही पेंशन एवं अन्य अवसरकालीन सुविधा मिलेगी। कर्मचारी को Retainment वाले महीने में ही जीपीएफ प्रदान करने के लिए राज्य Pension Treasury अब नोडल ट्रेजरी के तौर पर कार्य करेगी। पेंशन अधिकारी सभी जीपीएफ एवं टीपीएफ देय के बारे में अपने कर्मचारियों को अवगत कराएंगे। इसकी एक कापी संपृक्त कर्मचारी जिस अनुष्ठान में नौकरी कर रहा है उस अनुष्ठान के DDO को प्रदान करेगी। जीपीएफ प्रदान के लिए कर्मचारी के व्यक्तिगत उपस्थिति की जरूरत नहीं होगी।

खाते में जाएगी राशि
वित्त विभाग ने कहा है कि सभी राशि कर्मचारी के खाते में जाएगी ऐसे में उस व्यक्ति की उपस्थिति की आवश्यकता नहीं है। कर्मचारी का जीपीएफ खाता नंबर के आधार पर Nodal treasury संपृक्त अवसर प्राप्त सरकारी कर्मचारी के वेतन जाने वाले बैंक खाते में या प्रोविजनल पेंशन खाते में चली जाएगी। यदि सरकारी कर्मचारी की मौत हो जाती है तो फिर उसका देय आवेदन के साथ Legal Higher Certificate को पेंशन प्रदानकारी अधिकारी के पास DDO भेजेंगे।

राज्य वित्त विभाग की तरफ से इस संबंध में विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किया गया है। आगामी दिनों में इसके लिए जीपीएफ एवं TPF नियम में संशोधन किए जाने की जानकारी वित्त विभाग के प्रमुख सचिव अशोक कुमार मीना की तरफ से जारी विज्ञप्ति से यह बात पता चली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

3 + nine =